Home देश Arm Licence: देश में बंदूक रखने के मामले में यूपी का पहला...

Arm Licence: देश में बंदूक रखने के मामले में यूपी का पहला स्थान, ऐसे ही नहीं बना क्राइम स्टेट

SHARE
arm licence report

Arm Licence:  देश में ये संख्या 33 लाख 69 हजार 444

Arm Licence:  देश में सबसे ज्यादा हथियार रखने के मामले में उत्तर प्रदेश ने पहला स्थान प्राप्त किया है.

आपको बता दें कि यूपी में 12.77 लाख लोगों के पास बंदूक रखने का लाइसेंस है जो बंदूकों के लिए लाइसेंस लेने वाले राज्यों की सूची में सबसे ऊपर है.
वहीं इस सूची में दूसरा स्थान आतंकवाद प्रभावित राज्य जम्मू कश्मीर का है, जहां 3.69 लाख लोगों को बंदूक रखने का लाइसेंस मिला हुआ है.
गृह मंत्रालय की तरफ से जारी 31 दिसंबर 2016 तक के आंकड़ों के मुताबिक, देश में बंदूकों को रखने के लिए जारी लाइसेंस की संख्या 33 लाख 69 हजार 444 है.
जिसमें सर्वाधिक 12 लाख 77 हजार 914 लाइसेंस उत्तर प्रदेश के लोगों को मिले हुए हैं. गौरतलब है कि इन लोगों में ज्यादातर ने निजी सुरक्षा के नाम पर लाइसेंस का आवेदन किया हुआ है.
मंत्रालय ने बताया कि करीब तीन दशक से आतंकवाद से पीड़ित जम्मू कश्मीर में 3 लाख 69 हजार 191 लोगों के पास बंदूक के लाइसेंस हैं. इसमें प्रतिबंधित और गैर प्रतिबंधित दोनों ही तरह के हथियार शामिल हैं.

वहीं साल 1980 और 90 के दशक में आतंकवाद से पीड़ित रहे पंजाब में बंदूक के लाइसेंस की संख्या 3 लाख 59 हजार 349 है. इनमें से ज्यादातर लाइसेंस राज्य में आतंकवाद के दो दशकों के दौरान जारी किये गये थे.

रिपोर्ट के अनुसार इसके बाद मध्य प्रदेश का नंबर आता है जहां 2 लाख 47 हजार 130 और हरियाणा में 1 लाख 41 हजार 926 लोगों को बंदूक रखने का लाइसेंस प्राप्त है.
वहीं अन्य राज्यों की अगर बात करें तो राजस्थान में (1,33,968 ) लाइसेंस, कर्नाटक (1,13,631), महाराष्ट्र (84,050), बिहार (82,585), हिमाचल प्रदेश (77,069), उत्तराखंड (64,770), गुजरात (60,784) और पश्चिम बंगाल में (60,525) लोग बंदूक रख सकते हैं.
इसके अलावा दिल्ली में लाइसेंस शुदा बंदूकधारियों की संख्या 38,754 है जबकि नागालैंड में 36,606, अरूणाचल प्रदेश में 34,394, मणिपुर में 26,836, तमिलनाडु में 22,532 और ओडिशा में 20,588 लोगों को लाइसेंस जारी किये गये हैं.
मंत्रालय के मुताबिक, सबसे कम लाइसेंस केंद्र शासित प्रदेशों दमन – दीव और दादर और नागर हवेली में जारी किये गये हैं. इन प्रदेशों में केवल 125 लोगों ने ही बंदूक रखने के लिए लाइसेंस का आवेदन किया हआ है.
For More Breaking News In Hindi and Positive News India Follow Us On Facebook, Twitter, Instagram, and Google Plus