Home देश Digital Home Address : अब आदमी की तरह घरों का भी बनेगा...

Digital Home Address : अब आदमी की तरह घरों का भी बनेगा आधार कार्ड, सरकार ला रही नई योजना

SHARE
DIGITAL HOME ADDRESS

Digital Home Address : हर घर को मिलेगा डिजिटल नंबर

Digital Home Address : अभी तक देश में सिर्फ नागरिकों की ही यूनिक आइडेंटिफिकेशन के रूप में आधार कार्ड बनाए गए थे, लेकिन अब हर नागरिक के घरों का भी आधार कार्ड बनेगा.

जी हां, हो सकता है आपको यह सुनकर थोड़ा अटपटा-सा जरूर लगे, मगर यह सच है.
दरअसल, केंद्र सरकार अब नागरिकों के घरों के लिए 6 अंकों की डिजिट बनाने जा रही है. जिसमें यह 6 अंक मकान का डिजिटल एड्रेस होगा, जो आपके घर के पते के रूप में दर्ज होगा.
इस योजना के बाद अब से किसी भी मकान की लोकेशन जानने के लिए आपको बस उस घर का डिजिटल एड्रेस पता होना चाहिए.
यह भी पढ़ें – देश के हर घर तक बिजली पहुंचाने के लिए पीएम मोदी ने लॉन्च की Saubhagya Yojna
क्या है ये योजना ?
केंद्र सरकार अपनी योजना अनुसार हर परिवार को पोस्टल एड्रेस के रूप में 6 अंकों की डिजिट प्रदान करेगी, जिसका नाम ई-लॉक रखा गया है.
ई-लॉक की खासियत ये है कि जब भी किसी को कोई पता खोजना हो तो उसे ई-लॉक की वेबसाइट पर जाकर उस घर का 6 अंकों की डिजिट टाइप करना होगा, जिसके बाद मकान खोजने वाले को उसकी लोकेशन खुद दिखने लगेगी.
आपको बता दें कि इस योजना के लिए केंद्र सरकार ने मैप माई इंडिया ऑनलाइन कंपनी से डील भी कर ली है.
फायदे का सौदा
घरों का डिजिटल एड्रेस जारी होने के बाद नेट पर किसी भी घर को खोजना आसान होगा. बस डिजिटल नंबर की मदद से हम किसी भी घर का पता लगा सकेंगे,
इससे यात्रियों को किसी अंजान एरिया में घर का पता लगाने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा. साथ ही इससे व्यापारियों का भी खूब फायदा होगा, क्योंकि किसी सामान की डिलीवरी करने में डिलीवरी ब्वॉय को कई बार ऑर्डर देने वाले ग्राहक का घर ढूंढने में बहुत भटकना पड़ता है.
यह भी पढ़ें – State Free Coaching : तमिलनाडु में छात्रों के प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए खोली गई मुफ्त कोचिंग
गांव भी ढूंढना होगा आसान
ई-लॉक के जरिए शहर में तो घरों की डिजिटल आइडेंटिफिकेशन होगी ही ,इसके साथ ही गांवों में भी हर घर को इस योजना से जोड़ा जाएगा. डिजिटल एड्रेस टाइप करके हम गांव और शहरों की एक्जेक्ट लोकेशन खोज सकते हैं.
पर्यटक और यात्रियों को मिलेगा लाभ
मैप माई इंडिया की ओर से जारी बयान के मुताबिक इस नए ई -लॉक से भारतीय पर्यटकों ओर यात्रियों को अपना डेस्टिनेशन सर्च करने, नेवीगेट करने और शेयर करने में काफी आसानी मिलेगी.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitterInstagram, and Google Plus