Home देश भारत में रूस ने किया अब तक का सबसे बड़ा निवेष, ...

भारत में रूस ने किया अब तक का सबसे बड़ा निवेष, 83 हजार करोड़ रुपये में खरीदा एस्सार ऑयल

SHARE
फोटो साभार-डेक्कन
फोटो साभार-डेक्कन
देश में प्राक्रतिक गैस और तेल का कारोबार करने वाली कंपनी एस्सार ऑयल ने भारत में लगभग अपनी सभी संपत्तियों को रूस को बेचने का फैसला किया है.
एस्सार ने लगभग 83 हजार करोड़ में अपनी कंपनी को रूस की सरकारी कंपनी रोसनेफ्ट की अगुवाई वाली कंसोसर्यिम को बेचने के करार को अंतिम रूप दे दिया है.
रूस और भारत की कंपनियों के बीच हुआ यह सौदा देश का अब तक का सबसे बड़ा एफडीआई निवेष है. साथ ही रूस के द्वारा भी देश में किया गया सबसे बड़ा निवेश भी है.
जानकारों की माने तो इस सौदे के बाद देश में विदेशी निवेश यानी एफडीआई 37 फीसदी बढ़कर 10.4 अरब डालर हो गया.
इस सौदे की नीव पिछले साल गोवा में हुए ब्रिक्स सम्मेलन के दौरान रखी गई थी. मगर इस सौदे को पूरा करने में एक अड़चन आ रही थी. दरअसल एस्सार ऑयल पर बैंको का 45 हजार करोड़ रूपए का कर्ज बकाया था. जिसपर बैंको ने कहा कि यह सौदा तभी संभव होगा जब कंपनी हमारे बचे हुए कर्ज को चुकता करेगी.
इस बारे में कंपनी के निदेशक प्रशांत रुइया ने कहा कि कंपनी एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक, आईडीबीआई बैंक तथा स्टैण्डर्ड चार्टर्ड समेत अन्य कर्जदाताओं को 70 हजार करोड़ रुपए का भुगतान करेगी. इससे कंपनी पर कर्ज का बोझ 60 प्रतिशत से अधिक कम हो जाएगा.
रोसनेफ्ट की अगुआई वाले समूह में ऑयल बिडको और त्राफिगुरा-यूसीपी शामिल हैं. इस सौदे में एस्सार ऑयल का गुजरात के वाडिनार स्थित सालान दो करोड टन क्षमता का पेट्रोलियम परिशोधन संयंत्र, उसके साथ जुडा विद्युत संयंत्र तथा बंदरगाह और खुदरा कारोबार कर रहे 3500 से अधिक पेट्रोल पंप शामिल हैं.