Home देश IT Taxpayer Report : देश में करोड़पतियों की संख्या में इजाफा, मगर...

IT Taxpayer Report : देश में करोड़पतियों की संख्या में इजाफा, मगर आमदनी घटी

SHARE
IT Taxpayer Report
demo pic

IT Taxpayer Report : रिटर्न फाइल करने वाले आधे नहीं देते कोई टैक्स

IT Taxpayer Report : भारतीय इनकम टैक्स डिमार्टमेंट की तरफ से बुधवार को वर्ष 2015-16 के टैक्सपेयरों के आकड़ों जारी किए गए.

इन आकड़ों में एक दिलचस्प बात सामने आई है कि आयकर रिटर्न फाइल करने वालों में आधे भारतीय जीरो टैक्स भरते हैं.
जी हां वर्ष 2014-15 में 4.1 करोड़ लोगों ने अपना इनकम टैक्स रिटर्न फाइल किया जिनमें से लगभग 2 करोड़ लोगों ने यह दावा किया है कि उनकी आमदनी 0 से लेकर 2.5 लाख से कम थी इस वजह से उनपर कोई टैक्स नहीं बनता.
करोड़पति बढ़ें लेकिन आमदनी में आई गिराट
वर्ष 2015-16 में देश में करोड़पतियों की संख्या में 23.5 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. इस लिहाज से भारत में करोड़पतियों की संख्या 59,830 पहुंच गई है. लेकिन पिछले साल की तुलना में उनकी कुल आमदनी में 50,889 करोड़ रुपये की कमी आई है.
यह भी पढ़ें – Communal Incident : 2014-16 में देश के अंदर 2,098 सांप्रदायिक हिंसा में 278 लोगों ने जान गंवाई
100 करोड़ इनकम टैक्स देने वाला केवल एक
2015-16 में देश के सिर्फ एक नागरिक ने 100 करोड़ से ज्यादा का इनकम टैक्स भरा था. वहीं 3 लोगों ने 50 से 100 करोड़ के बीच टैक्स दिया है.जबकि 1 करोड़ से 50 करोड़ के बीच के टैक्स भरने वालों की संख्या 9,686 थी.
देश का आधा टैक्स दिल्ली महाराष्ट्र से
गौरतलब है कि देश के खजाने को बढ़ाने के लिए महाराष्ट्र का 37 फीसदी योगदान रहता है. जिसके बाद दूसरे नंबर पर दिल्ली का स्थान हैं जहां से 12.8 फीसदी टैक्स की प्राप्ति होती है.कुल मिलाकर देश को 50 फीसदी टैक्स का हिस्सा अकेले इन दो राज्यों से ही आता है.
जबकि इनके बाद कर्नाटक (10.1%) , तमिलनाडु (7.1%), गुजरात (4.6%), आंध्र प्रदेश (4.3%), पश्चिम बंगाल (4.1%), यूपी (3.5%), हरियाणा (2.4%) और राजस्थान 2.4 प्रतिशत के साथ देश के खजाने में अपना योगदना करता है.
यह भी पढ़ें – देश की उच्च अदालतों में 6 लाख केस 10 साल से भी ज्यादा समय से पड़े हैं लंबित- रिपोर्ट
ये हैं 2017 के टॉप 8 अमीर भारतीय
चीन आधारित अंतर्राष्ट्रीय शोध एजेंसी हुरुन की सूचि में देश के सबसे अमीर व्यक्ति रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी हैं जिनकी कुल संपत्ति 2,75,900 करोड़ रुपये की है.
इसके बाद दूसरे नंबर पर सन फार्मा के दिलीप सांघवी 89,000 करोड़ रुपये, तीसरे पर स्टील बैरन लक्ष्मी निवास मित्तल 88,200 करोड़ रुपये, चौथे पर एचसीएल के संस्थापक और अध्यक्ष शिव नादर 85,100 करोड़ रुपये, पांचवे पर आईटी कंपनी विप्रो के संस्थापक अजीम प्रेमजी 79,000 करोड़ रूपए, छटे पर विशाल पतंजलि आयुर्वेद के आचार्य बालकृष्ण 70,000 करोड़, सातवे पर कोटक महिंद्रा बैंक के उदय कोटक 62,700 करोड़ रुपये और आठवें पर भारती एयरटेल कम्पनी के मालिक सुनील मित्तल 56,500 करोड़ रुपए के साथ वर्ष 2017 की हुरुन इंडिया की टॉप 8 की लिस्ट में जगह बनाई है.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitterInstagram, and Google Plus