Home देश Tourist Mobile Verfication : विदेशी पर्यटकों और एनआरआई को भारत आने पर...

Tourist Mobile Verfication : विदेशी पर्यटकों और एनआरआई को भारत आने पर कराना होगा मोबाइल वेरिफिकेशन

SHARE
Indian Tourism Economy
demo pic

Tourist Mobile Verfication : ऐसा ना करने पर दंड का प्रावधान

Tourist Mobile Verfication :भारत में आने वाले विदेशी पर्यटकों और एनआरआई को अब से यहां आने के बाद अपना मोबाइल नंबर वैरिफिकेशन कराना अनिवार्य होगा. यह नियम बहुत जल्द लागू होने की उम्मीद है.

आपको बता दें कि अगर किसी सैलानी ने अपना मोबाइल नंबर वैरिफिकेशन नहीं कराया तो उसके लिए कठोर दंड का प्रावधान भी रखा जाएगा.
यह नियम एनआरआई सहित भारत घूमने आने वाले सभी विदेशी सैलनियों पर भी लागू होगा.
यह भी पढ़ें  – Long Term Visa In India : पाकिस्तान के 451 नागरिक को भारत देगा लंबे समय के लिए वीजा,खरीद सकेंगे प्रापर्टी भी
पासपोर्ट को बनाया जा सकता है आधार
पीटीआई की मानें तो देशी की बड़ी टेलीकॉम कंपनियों की यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी आफ इंडिया के साथ बातचीत चल रही है.
भारतीयों के लिए तो आधार कार्ड का यूनिक नंबर वैरिफिकेशन के लिए मान्य है, लेकिन एनआरआई और विदेशी सैलानियो के पास आईडेंटिफिकेशन यूनिक नंबर नहीं होंगे.
इसके लिए पासपोर्ट को आधार बनाने पर विचार किया जा रह है, क्योंकि बाहरी व्यक्तियों के लिए पासपोर्ट ही पहचान का मजबूत माध्यम है.
यह भी पढ़ें – Rajasthan Police Constable 2017 : राजस्थान पुलिस ने 5390 कांस्टेबल के पदों पर निकाली भर्ती
वैरिफिकेशन के पीछे ये हैं खास वजहें
दरअसल, भारत में हर साल हजारों की संख्या में विदेशी सैलानी आते हैं. मगर यहां इनके मोबाइल कनैक्शन का कोई वैरिफिकेशन नहीं हो पाता है.
ऐसे में खुफिया एजेंसियों की आशंका बनी रहती है कि कहीं विदेशी सैलानियों के नंबर से किसी तरह की आतंकी गतिविधयों को अंजाम न दिया जा रहा हो.
इसके साथ ही इन लोगों के नाम से अवैध कनैक्शन लेने की भी लगातार आशंका बनी रहती है. क्योंकि विदेशी सैलानियों व एनआऱआई के नाम से कई बार फर्जी मोबाइल कनैक्शन लिए जाने के मामले सामने आते रहे हैं.
गौरतलब है कि सरकार की तरफ से टेलीकॉम कंपनियों को यह स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि देश में जिस भी ग्राहक का मोबाइल कनैक्शन फरवरी 2018 तक आधार कार्ड से लिंक न हो, उसे तुरंत बंद कर दिया जाए.
इसके लिए टेलीकॉम कंपनियों की ओर से ग्राहकों को लगातार चेतावनी भी दी जा रही हैं.

p style=”text-align: center;”>For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitterInstagram, and Google Plus