Home देश UP Excise Act : यूपी में नकली शराब के कारोबारियों को हो...

UP Excise Act : यूपी में नकली शराब के कारोबारियों को हो सकती है फांसी, विधानसभा में कानून पारित

SHARE
UP Excise Act

UP Excise Act : फांसी देने वाला यूपी बना तीसरा राज्य

UP Excise Act : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने नकली शराब का कारोबार करने वाले अपराधियों से निपटने के लिए कठोर कानून का विधेयक विधानसभा में पारित करा लिया है.

उत्तर प्रदेश सरकार ने जहरीली शराब पीकर मरने वाले लोगों के अपराधियों को आजीवन कारावास से लेकर फांसी की सजा का प्रावधान अपने इस नए कानून में किया है.
यूपी के संसदीय मामलों के मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा यूपी एक्साइज (संशोधन) विधेयक 2017 को शुक्रवार को सदन में पेश किया गया .जिसके सर्वसम्मति से पास होने के बाद सरकार ने सितंबर में इसी संदर्भ में लाए अपने पुराने अध्यादेश को भी खत्म कर दिया है.
यह भी पढ़ें – India Healthcare Expenditure : भारत ने 2016-17 में स्वास्थ्य पर खर्च किया कुल जीडीपी का 1.5 फीसदी
5 लाख से कम नहीं होगा जुर्माना
आपको बता दें कि नकली शराब की बिक्री से होने वाली मौतों को रोकने के लिए इस नए कानून में फांसी की सजा से लेकर आजीवन कठोर कारावास तक का प्रावधान किया गया है.
इसी के साथ ही जुर्माना की राशि को भी बढ़ाकर अधिकतम 10 लाख और न्यूनतम 5 लाख कर दिया गया है.
वहीं इन जहरीली शराब के सेवन से अगर किसी व्यक्ति के शरीर में कोई विकलांगता आती है तो ऐसे में भी उस शराब का कारोबार करने वाले को अधिकतम 10 साल या कम से कम 6 साल की कारावास की सजा सुनाई जाएगी. साथ ही उससे जुर्माने की राशि अधिकतम 5 लाख और न्यूनतम 3 लाख वसूली जाएगी.
यह भी पढ़ें – UPNHM RESULT 2017 : UPNHM के विभिन्न पदों पर ली गई परीक्षा के परिणाम घोषित, यहां चेक करें रिजल्ट
फांसी देने वाला यूपी बना तीसरा राज्य
गुजरात और दिल्ली के बाद उत्तर प्रदेश देश का तीसरा ऐसा राज्य बन गया है जहां नकली शराब के सेवन से किसी व्यक्ति को पहुंचने वाले नुकसान के लिए आरोपी को मृत्युदंड की सजा सुनाई जाएगी.
गौरतलब है कि यूपी पिछले कुछ सालों से नकली शराब का गढ़ बना हुआ था. आए दिन राज्य के कोनों से नकली शराब पीने की वजह से लोगों की मौतों की खबर आया करती थी.
इसी साल जुलाई महीने में आजमगढ़ में नकली शराब का सेवन करने से 17 लोगों की मौत हो गई थी. वहीं राजधानी लखनऊ के मलिहाबाद क्षेत्र में साल 2015 में नकली शराब पीने से 28 लोगों ने अपनी जान गंवाई थी.
खैर मौजूदा राज्य सरकार के द्वारा बनाए गए इस नए कानून के बाद यह आशा की जा रही है अब प्रदेश में नकली शराब का कारोबार करने वाले लोगों पर लगाम लगेगी.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitterInstagram, and Google Plus