Home देश Wassenaar Arrangement : भारत को मिली एक और कामयाबी, वासेनार अरेंजमेंट का...

Wassenaar Arrangement : भारत को मिली एक और कामयाबी, वासेनार अरेंजमेंट का बना सदस्य

SHARE
Wassenaar Arrangement

Wassenaar Arrangement : एनएसजी में हुआ भारत का पलड़ा भारी

Wassenaar Arrangement : 8 दिसंबर 2017 भारत की एक और सफलता हासिल करने वाले दिन के रूप में यादगार बन गया है.

प्रधानमंत्री मोदी की जबरदस्त विदेश नीति की वजह से गुरुवार को भारत वासेनार अरेंजमेंट की सदस्यता हासिल करने वाला 42 वां देश नामित किया गया है.
यह कहा जा सकता है कि भारत की कई साल पहले से सदस्यता को लेकर चली आ रही कशिशों का परिणाम अच्छा रहा.
आपको बता दें कि वासेनार का सदस्य बनने के बाद देश के रक्षा और अंतरिक्ष कार्यक्रमों में तेजी और उसकी बेहतरी के लिए बाकि सदस्य देशों के साथ होने वाले समझौतों में रूकावट कम होगी.
यह भी पढ़ें – Kanchanmala : भारत की नेत्रहीन बेटी ने विश्व पैरा तैराकी चैंपियनशिप में गोल्ड जीतकर रचा इतिहास
सदस्य देशों को भारत ने कहा शुक्रिया
विदेश मंत्रालय की और से जारी बयान में कहा गया है कि भारत संबंधित आंतरिक प्रक्रिया पूरी करने के बाद आठ दिसंबर, 2017 को वासेनार संधि संगठन में शामिल हो गया है.
जिसके लिए वो अपनी सदस्यता का समर्थन करने वाली सभी 41 सहभागी देशों का धन्यवाद करता है.
बयान में यह भी कहा गया कि इस संगठन में भारत का शामिल होना सदैव लाभकारी रहेगा तथा इससे अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा एवं परमाणु उद्देश्यों को हासिल करने में उसे मदद मिलेगी.
यह भी पढ़ें – Homai Vyarawala : जानिए कौन हैं होमी व्याराला, जिन्हें आज गूगल ने डूडल बनाकर किया याद
एनएसजी में हुआ भारत का पलड़ा भारी
गौरतलब है कि भारत की एनएसजी में सदस्यता के लिए लगातार रूकावट पैदा करने वाला चीन इस संगठन का सदस्य नहीं है.
हालांकि चीन ने भी इस संगठन में अपनी सदस्यता के लिए आवेदन किया हुआ है. मगर उसके इतिहास को देखते हुए अभी तक उसकी सदस्यता मंजूर नहीं की गई है.
वहीं भारत के वासेनार में सदस्य बनने के बाद यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि अब एनएसजी में उसकी सदस्यता का पलड़ा भी भारी हो जाएगा. क्योंकि मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था (एमटीसीआर) और वासेनार संगठन के ज्यादातर देश एनएसजी के भी मेंबर हैं.
जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल जून में ही भारत मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था में बतौर पूर्ण सदस्य जुड़ा था।

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus