दिव्यांग महिलाओं को मिलने वाला ‘शिशु भत्ता’ हुआ दोगुना

Maharashtra Women Employee Paid Leave
demo pic
केंद्र सरकार ने दिव्यांग महिला कर्मचारी को उनके शिशु की देखभाल करने के लिए मिलने वाले भत्ते को दोगुना कर दिया है. वर्तमान में इस भत्ते के तहत 1500 रुपए की राशि प्नदान की जाती है ,जिसे बढ़ाकर अब ये  3000 कर दी गई है.
कार्मिक एवं प्रशिक्षण मंत्रालय द्वारा जारी आदेश के मुताबिक यह भत्ता दिव्यांग महिला कर्मचारी को उनके शिशु के जन्म से 2 वर्ष तक की आयु पूरी करने तक दिया जाएगा.
सरकार ने यह फैसला केंद्रीय कर्णचारियों के लिए गठित सातवें वेतन आयोग के द्वारा की गई सिफारिशों को ध्यान में रखकर लिया है.
गौरतलब है कि सरकार द्वारा गठित आयोग ने अपनी रिपोर्ट में दिव्यांग महिलाओं को मिलने वाले शिशु देखभाल भत्ते को बढ़ाने के लिए सरकार से कहा था.
उन्होंने अपनी मांग में कहा था कि शिशु देखभाल भत्ते की सीमा 3000 रुपये होनी चाहिये.
 आयोग की सिफारिश के आधार पर ही विभााग ने केन्द्रीय सचिवालय सेवा और अन्य मुख्यालय सेवाओं के डेस्क अधिकारियों को मिलने वाले 900 रुपये डेस्क भत्ते को खत्म कर दिया है. क्योंकि यह भत्ता 2010 से वास्तव में अस्तित्वहीन है.