भोपाल में गायों के लिए बनेगा देश का पहला श्मशान घाट

India First Crematorium For Cows :

India First Crematorium For Cows : भोपाल की म्यनूसिपिल कॉरपोरेशन ने लिया ये फैसला

India First Crematorium For Cows : गाय हमारी माता होती है, ये ज्ञान शायद हमारे भारत में बच्चे के जन्म के बाद माता-पिता से लेकर स्कूल मास्टर तक हर कोई देता है.

हिंदुओं के बहुसंख्यक वाले देश में गाय माता कितनी पूजनीय हैं इसका अंदाजा आप हाल के दंगों की रिपोर्टों से अच्छे से लगा सकते हैं.
बता दें की अभी हाल ही में दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने राज्य में गायों के लिए पीजी हॉस्टल खोलने का फैसला किया है जहां गायों की सेवा के अलावा उनकी देखरेख की पूरी जिम्मेदारी रहेगी.
इसी क्रम में एक और कदम आगे बढ़ते हुए मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की म्यनूसिपिल कॉरपोरेशन ने गायों के अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट बनाने का निर्णय लिया है.

पढ़ेंअच्छी खबर : दिल्ली में गायों के लिए पीजी-हॉस्टल बनवाएगी केजरीवाल सरकार

सबसे खास बात यह है की गायों के लिए श्मशान बनाने का फैसला लेने वाला भोपाल देश का पहला शहर बन गया है.
गौरतलब है की इस समय भोपाल म्यनूसिपिल कॉरपोरेशन पर बीजेपी काबिज है और यहां के महापौर आलोक शर्मा ने इसका ऐलान किया है.
आलोक वर्मा ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में कहा की गाय दूध देती है तो उसकी पूजा होती है, लेकिन मरने के बाद उसे कहीं भी फेंक दिया जाता है.
हम उसकी इस उपेक्षा को खत्म करने के लिए भोपाल नगर निगम गौ-मुक्तिधाम बनाना चाहता है.
उन्होंने बताया की गो-श्मशान केंद्र के निर्माण की चर्चा पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के काल में ही शुरू हो गई थी हम तो बस इसे अब आगे बढ़ाना चाहते हैं.
आलोक वर्मा ने कहा की हमें जैसे ही जमीन मिल जाती है हम गौ मुक्ति धाम बनाने की दिशा में तेजी से काम करने लगेंगे.
यहां आपकी जानकारी के लिए यह भी बता दें की सितंबर 2017 में मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार ने ही आगर मालवा जिले में गो-अभयारण्य बनाया था, जो देश का पहला गौ-अभयारण्य केंद्र था.
कांग्रेस के घोषणा पत्र में गौशाला बनाने का किया था वादा
गौरतलब है की 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में गायों के लिए हर ग्राम पंचायत में गोशाला बनाने का वादा किया था जिसपर अमल करने के प्रयास कमलनाथ सरकार तेजी से कर रही है.
पढ़ें – गुजरात के स्कूलों में अब से छात्र ‘जय हिंद’ या ‘जय भारत’ कहकर देंगे अपनी हाजिरी
वहीं गायों के लिए श्मशान बनाने वाले ऐलान के बाद कांग्रेस प्रवक्ता मानक अग्रवाल ने कहा, ‘गौ मुक्ति धाम बनाने की बात कह रहे हैं, लेकिन पहले जो गायें सड़क पर पड़ी हैं उन्हें गौशाला तक पहुंचाएं.
गौरतलब है की सरकारी आकड़ों के मुताबिक प्रदेश में करीब 2.27 करोड़ मवेशी हैं, जिसमें 90 लाख दुधारू पशु हैं और इनमें से 54 लाख गाएं शामिल हैं.