खुद को अकेला रखने वाले लोग होते हैं ज्यादा इंटेलिजेंट – शोध

Alone People Are Intelligent

Alone People Are Intelligent : अकेलेपन का भी होता एक पाजिटिव साइड

Alone People Are Intelligent : अगर आप का बच्चा या कोई जानने वाला दोस्तों के साथ घूमने फिरने, परिवार के सदस्यों के साथ समय बिताने या खुद को ज्यादा सोशल ना रखकर अपने में ही अकेले अकेले रहता है तो ऐसे लोगों के लिए अब आपको बिल्कुल भी चिंता करने की जरूरत नहीं है.

जी हां हाल ही में हुए एक शोध में अकेलेपन का एक पाजिटिव साइड लोगों के सामने निकलकर आया है.
दरअसल एक शोध में खुलासा हुआ है कि खुद को इधर उधर के लोगों से घुलने के बजाए अकेले में रहने वाले लोग ज्यादा इंटेलिजेंट यानी बुद्धिमान होते है.
वर्ल्‍ड इकनॉमिक फोरम द्वारा की गई इस स्टडी में 18 से 28 वर्ष की उम्र के 15 हजार से ज्‍यादा लोगों को शामिल किया गया था.
पढ़ेंअमेरिका में हिंदी सीखने का क्रेज, भारतीय दूतावास मुफ्त में देगा क्लास
इस शोध में उनकी जिंदगी से जुड़े कुछ खास सवाल-जवाब भी किए गए जैसे लोगों से मिलना जुलना उन्हें कितना अच्छा लगता है, उनके आस-पास कितनी आबादी रहती है या भीड़ में वो कैसा महसूस करते हैं आदि.
इन प्रश्नों के जवाब से ये पता चला कि ज्यादातर लोगों को भीड़ पसंद नहीं वो इसमें घुटन सी महसूस करते हैं जिस वजह से ये खुद को इस माहौल में नहीं ढाल पाते.
स्टडी की मानें तो ज्‍यादातर बुद्धिमान व्यक्तियों को दोस्‍तों के साथ लगातार सोशलाइजेशन से जीवन से कम संतुष्टि महसूस होती है.
शोध करने वालों ने ऐसा होने की दो प्रमुख वजहें बताई हैं जिसमें पहला शायद बुद्धिजीवी लोग ज्यादातर अपने काम पर फोकस रखते हैं जिस वजह से उन्हें उसी पर समय बिताना अच्‍छा लगता है.
वहीं दूसरी वजह यह भी हो सकता है कि वो अंतर्मुखी लोगों की तरह खुद को रीचार्ज करने की जरूरत समझते हैं.