Home हेल्थ रिपोर्ट Benefits Of Tulsi : तुलसी धार्मिक रूप से नहीं बल्कि स्वास्थ्य...

Benefits Of Tulsi : तुलसी धार्मिक रूप से नहीं बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी है वरदान, जानिए इसके फायदे

SHARE
Benefits Of Tulsi

Benefits Of Tulsi : पढ़ें तुलसी के 10 रोग निवारक फायदे

Benefits Of Tulsi : हिंदू मान्यताओं में तुलसी को एक देवी के रुप में पूजा जाता है. लोगों का ऐसा विश्वास है कि घर में तुलसी का पेड़ लगाने से सुख और शांती रहती है. इसी वजह से पिछले 5000 सालों से ज्यादातर हिंदू परिवार रोज सुबह शाम तुलसी की निरंतर पूजा करते हैं.

लेकिन पौराणिक महत्व के अलावा तुलसी को एक जानी-मानी औषधि के रुप में भी पहचान मिली हुई है, जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों में किया जाता है.
सर्दी-खांसी से लेकर कई बड़ी और भयंकर बीमारियों में यह एक कारगर औषधि के रुप में काम करती है. अपने इन्हीं प्रभावों के फायदे के कारण तुलसी को ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरी दुनिया में जाना जाता है.
आयुर्वेद में तुलसी के पौधे के हर भाग को स्वास्थ्य के लिहाज से फायदेमंद बताया गया है. इसकी पत्तियों और शाखाओं में कई ऐसे रसायनिक तत्व पाए जातें जो हमारे शरीर के स्वास्थ्य के लिए बड़े लाभदायक रहते है.
तुलसी के अंदर विटामिन ए,सी और के, मैंगनीज,तांबा,कैल्शियम,आयरन,मैग्नीशियम और ओमेगा-3 फैट्स जैसे कई आवश्यक तत्व और मिनरलस् मौजूद रहते हैं.
यह भी पढ़ें – Fake Drugs : भारत में हर 100 दवाओं में 10 दवा नकली, WHO की रिपोर्ट
कई बिमारियों को रोकने के लिए उपयोगी तुलसी के कुछ अनदेखे फायदे इस प्रकार हैं:
1. यौन रोगों के इलाज में
पुरुषों में शारीरिक कमजोरी होने पर तुलसी के बीज का इस्तेमाल काफी फायदेमंद होता है. इसके अलावा यौन-दुर्बलता और नपुंसकता में भी इसके बीज का नियमित इस्तेमाल फायदेमंद रहता है.
2. अनियमित पीरियड्स की समस्या में
अक्सर महिलाओं को पीरियड्स में अनियमितता की शिकायत होती है. ऐसे में तुलसी के बीज का इस्तेमाल बड़ा फायदेमंद होता है.
मासिक चक्र की अनियमितता को दूर करने के लिए तुलसी के पत्तों का नियमित सेवन उपचार के रूप में किया जा सकता है.
3. सर्दी में खास
अगर आपको सर्दी या फिर हल्का बुखार है तो मिश्री, काली मिर्च और तुलसी के पत्ते को पानी में अच्छी तरह से पकाकर उसका काड़ा पिएं. आप चाहें तो इसकी गोलियां बनाकर भी खा सकते हैं.
यह भी पढ़ें – Mushroom Benefits : बुढ़ापे में भी दिखना है यंग तो आज से ही खाना शुरू करें मशरूम
4. पेट दर्द होने पर
अगर आप पेट दर्द की समस्या से परेशान हैं तो तुलसी के पत्तों का रस आपको फायदा देगा.
इसके लिए आप एक चम्मच तुलसी के पत्तों के रस के साथ उतनी ही मात्रा में अदरक के रस के साथ मिलाकर पिएं जिसके बाद आपको पेट दर्द से राहत मिल सकती है.
वहीं महिलाएं अपने माहवारी के दौरान होने वाली पीड़ा को कम करने के लिए भी इस औषधि का इस्तेमाल कर सकती है.
5. सांस की दुर्गंध दूर करने के लिए
सांस की दु्र्गंध को दूर करने में भी तुलसी के पत्ते काफी फायदेमंद होते हैं और नेचुरल होने की वजह से इसका कोई साइडइफेक्ट भी नहीं होता है.
अगर आपके मुंह से बदबू आ रही हो तो तुलसी के कुछ पत्तों को चबा लें. ऐसा करने पर आपके मुंह से दुर्गंध चली जाएगी.
यह भी पढ़ें – Benefits Of Dog : लंबी उम्र के लिए जरूर पालें कुत्ता, अध्ययन में सामने आया ये नया पहलू
6. चोट लग जाने पर
अगर आपको कहीं चोट लग गई हो तो तुलसी के पत्ते को फिटकरी के साथ मिलाकर घाव पर लगाने से जल्दी ठीक हो जाता है.
तुलसी में एंटी-बैक्टीरियल तत्व होते हैं जो घाव को पकने नहीं देते है. इसके अलावा तुलसी के पत्ते को तेल में मिलाकर लगाने से जलन भी कम होती है.
7. चेहरे की चमक के लिए
तुलसी आपको त्वचा संबंधी रोगों से बचाए रखती है. इसका रस चेहरे पर होने वाले कील मुँहासे को जड़ से खत्म कर देता है.
ताजा तुलसी का रस त्वचा पर रहने वाले बैक्टीरिया को हटाने में मदद करता है जिससे आपका चेहरा साफ रहेगा.
8.तनाव को कम करने में
कई शोधो में यह पता चला है कि तनाव को कम करने में तुलसी की पत्तियां बड़ी असरदार होती हैं. दिन में रोजाना 10-15 तुलसी की पत्तियों का सेवन करने से दिमाग पर पड़ने वाले तनाव को रोका जा सकता है.
9 – गुर्दे संबंधि इलाज में मददगार
तुलसी का सेवन गुर्दे को मजबूत करने का काम करता है.यदि आपके गुर्दे में पथरी है तो आप तुलसी के ताजा रस को शहद की समान मात्रा में मिलाकर 4-5 महीनों तक पिएं. धीरे धारे आपके पथरी के कण मूत्रमार्ग से निकल जाएंगे.
10. कैंसर के इलाज में 
आयुर्वेद वैज्ञानिकों द्वारा कई शोधों में तुलसी के बीज को कैंसर के इलाज में भी कारगर बताया गया है. लेकिन अभी तक डॉक्टरों ने इस बात की पुष्टी नहीं की है.