Home हेल्थ रिपोर्ट Cancer Patient In India: देश में हर साल 10 लाख लोग कैंसर...

Cancer Patient In India: देश में हर साल 10 लाख लोग कैंसर से प्रभावित, 7 लाख लोगों की हो जाती है मौत

SHARE
High Carbohydrate occur cancer risk
demo pic

Cancer Patient In India: 2020 तक हर साल 17 लोग होंगे इसके शिकार

Cancer Patient In India: भारत में हर साल 10 लाख लोग कैंसर से प्रभावित हो रहे हैं, जिनमें से लगभग 7 लाख लोगों की मौत इस बिमारी के कारण हो जाती है. जो देश की मृत्यु दर को बढ़ाने का मुख्य कारण है.

अंग्रेजी वेबसाइट हफ़िंग्टन पोस्ट के अनुसार आईसीएमआर के द्वारा लगाए गए अनुमानों के आधार पर पता चलता है कि 2020 तक हर साल लगभग 17 लाख लोगों के अंदर कैंसर होने की उम्मीद है. जिससे आने वाले सालों में कैंसर की वजह से देश में मृत्यु दर 20 प्रतिशत और बढ़ सकती है.
कैंसर के बढ़ने के मुख्य कारण
कैंसर का हमारे देश में तेजी से बढ़ने का पहला कारण है लोगों के अंदर इस बिमारी को लेकर उचित जागरूकता की कमी.
हम शुरूआत में ही डॉक्टर के पास ना जाकर घरेलु उपचार कराने पर जोर देते हैं. जिसकी वजह से बिमारी अपने आखिरी चरण में पहुंच जाती है और डॉक्टरों के लिए भी मरीज को बचाना मुश्किल हो जाता है.
वहीं दूसरी ओर इसका उपचार इतना महंगा रहता है कि ये आम लोगों की पहुंच से दूर रहता है. और इलाज के लिए पर्याप्त पैसा ना होने का कारण मरीज की मौत हो जाती है.
सरकार की पहल
आम लोगों तक भी कैंसर के उपचार की पहुंच बनाने के लिए स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने मौजूदा 31 कैंसर केंद्रो को बढ़ाकर 49 करने की योजना बनाई है. जिसे अगले तीन साल की अवधि तक बना लिया जाएगा.
रेडियोथेरिपी मशीनों की कमी
गौरतलब है कि देश में कैंसर के इलाज में इस्तेमाल होने वाली रेडियोथेरेपी मशीनों की संख्या केवल 600 हैं. जबकि इनकी संख्या कम से कम 1200 होनी चाहिए थी.
स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि रातों रात 600 रेडियोथेरेपी मशीनों को खरीदना मुमकिन नहीं है. लेकिन मंत्रालय की कोशिश है कि 2018 के अंत तक कम से कम 200 नई मशीनों को खरीद लिया जाए.
मंत्रालय ने यह भी जानकारी दी कि कैंसर के इलाज को सुगम बनाने के लिए संस्थानों सहित सभी चीजों की लागत लगभग 3,495 करोड़ है. जिसे प्रधानमंत्री कार्यालय में पास कराने के लिए प्रस्तुत किया जा चुका है.