राजस्थान में अशोक गहलोत ने सीएम तो सचिन पायलट ने ली डिप्टी सीएम की शपथ, जानें इनके बारे में कुछ खास

Rajasthan CM Oath Ceremony
PC - INC

Rajasthan CM Oath Ceremony : मध्यप्रदेश,छत्तीसगढ़ और राजस्थान में मुख्यमंत्री पद का शपथ समारोह हो रहा है.

Rajasthan CM Oath Ceremony : मोदी  लहर पर रोक लगाते हुए आख़िरकार कांग्रेस ने तीन बड़े राज्यों में चुनावी जीत हासिल करते हुए जता दिया है कि 133 साल पुरानी पार्टी को  मिटाना इतना आसान नहीं है.

कांग्रेस को मिली जीत के बाद आज तीनों राज्य मध्यप्रदेश,छत्तीसगढ़ और राजस्थान में मुख्यमंत्री पद का शपथ समारोह हो रहा है.
तो चलिए जानते हैं राजस्थान के नए मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के बारे में जिन्होंने जयपुर के ऐतिहासिक अल्बर्ट हॉल में अपने पदों की शपथ ली.
Rajasthan CM Oath Ceremony

सीएम अशोक गहलोत

बीजेपी की ओर से वसुंद्रा राजे के पुरजोर दावे के बाद भी  राजस्थान में भाजपा जीत का परचम नहीं लहरा पायी, यहां कांग्रेस ने 99 सीटों के साथ जीत दर्ज की है.
सरकार बनाने के लिए कांग्रेस को 101 सीट चाहिए थी जिसमें 6 सीट वाली बसपा ने समर्थन देने का  फैसला किया और राज्य में कांग्रेस की सरकार बनवा दी.
पढ़ें – नए RBI गर्वनर पुराने वाले उर्जित पटेल से कितना हैं अलग 
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने राजस्थान की कमान अशोक गहलोत को दी और वहीं बहुचर्चित नाम सचिन पायलट को डिप्टी सीएम का पद दिया है. 
गौरतलब है कि पूर्वोत्तर क्षेत्र में शरणार्थियों के बीच काम करते वक़्त पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की नज़र अशोक गहलोत पर पड़ी और उन्होंने उन्हें अपने साथ शामिल कर लिया.
इसके बाद साल 1980 में पहली बार अशोक गहलोत जोधपुर सीट से सांसद बने
देखते ही अशोक गहलोत राजस्थान में कांग्रेस के बड़े नेता बन गए उन्होंने राज्य में 1998 और साल 2008 में मुख्यमंत्री का पद संभाला था, और अब तीसरी बार वो राज्य के 22वें मुख्यमंत्री के तौर पर पद संभालेंगे. 
Rajasthan CM Oath Ceremony

डिप्टी सीएम सचिन पायलट

वहीं डिप्टी सीएम सचिन पायलट कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे राजेश पायलट के पुत्र हैं. उनकी पढ़ाई एयरफोर्स बाल भारती स्कूल से हुई.
जिसके बाद वो  दिल्ली यूनिवर्सिटी के सेंट स्टीफंस कॉलेज से बीए की डिग्री ली और बाद में गाजियाबाद से मार्किटिंग का डिप्लोमा हासिल किया था. यही नहीं उन्होंने विदेश जाकर भी पढ़ाई करी है.
पढ़ें – जानिये क्या है अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाला, कौन है भारत लाया गया बिचौलिया मिशेल ?
पिता की मृत्यु के बाद उन्हीं के  निर्वाचन क्षेत्र दौसा से मात्र 26 वर्ष की आयु में वो पहली बार सांसद चुने गए, वो दो बार लोकसभा के सांसद और मनमोहन सरकार में केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं.
सचिन ने अपना पहला विधानसभा चुनाव इसी महीने दिसबंर मेंटोक सीट से लड़ा जिसमें उन्होंने जीत भी हासिल करी. 
सचिन पायलट ने जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला की बेटी सारा से शादी करी है जिनके दो बच्चे भी हैं.
Rajasthan CM Oath Ceremony

मंच पर दिखी विपक्षी एकता

 विपक्षी एकता को दिखाने के लिए कांग्रेस को इससे अच्छा मौका नहीं मिल सकता था सो उन्होंने इसका भरपूर फायदा उठाया.
शपथग्रूरहण समारोह में कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी, टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू, एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार, प्रफुल्ल पटेल, शरद यादव, नैशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, झारखंड मुक्ति मोर्चा के हेमंत सोरेन, जीतनराम मांझी और डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन मंच पर मौजूद रहे.

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मनमोहन सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, ज्योतिरादित्य सिंधिया, नवजोत सिंह सिद्धू, जितिन प्रसाद जैसे कांग्रेस के कई नेता मंच पर मौजूद रहे. 

इस समारोह की खाय बात यह रही कि इसमें राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी मौजूद थी.
हालांकी राज्य में कांग्रेस को समर्थन देने वाली बीएसपी सुप्रीमो मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की उपस्थिति इस समारोह में नहीं दिखी.