1 अप्रैल से कई नियमों में होने जा रहे बदलाव, जानें आप पर क्या पड़ेगा असर

New Rules From 1st April 2019
Google Pic

New Rules From 1st April 2019 : सोमवार से भारत का नया वित्त वर्ष शुरू होने जा रहा है.

New Rules From 1st April 2019 : कल यानी की 01अप्रैल 2019 दिन सोमवार से भारत का नया वित्त वर्ष शुरू होने जा रहा है.

ऐसे में लाजमी है की कल से देश के भीतर कुछ नए बदलावों से हम सबको रूबरू होना पड़ेगा, जिसमें बैंकिग से लेकर टैक्स सिस्टम भी शामिल है.
आइए फिर जानते हैं 1 अप्रैल 2019 से होने वाले विभिन्न क्षेत्रों में नए बदलावों के बारे में…
पढ़ेंA- SAT : भारत बना स्पेस जगत का सुपरपावर, क्या है इस कामयाबी के मायने
कर दाताओं को राहत
इस वित्त वर्ष सबसे अहम है टैक्स में मिलने वाली मिडिल क्लास लोगों को राहत.
दरअसल संसद में वित्त मंत्री अरूण जेटली द्वारा पेश किए गए बजट के मुताबिक 1 अप्रैल 2019 से 5 लाख रुपये तक की आय पर किसी प्रकार का कोई टैक्स नहीं लगेगा.
यानी कि अगर आपकी आय 5 लाख रुपए तक है तो आपको अब से शून्य टैक्स देना पड़ेगा.
घर खरीदना हुआ आसान
बता दें कि 1 अप्रैल से GST की नई दरें लागू होने जा रही हैं. इसके बाद अंडर कंस्ट्रक्शन मकानों पर 12 % की जगह 5 % टैक्स लगेगा जबकि अफोर्डेबल घरों पर 1% जीएसटी लगेगा.
ऐसा होने से ग्राहकों को घर खरीदनें में एक बड़ी राहत मिल सकती है.
बैंक लोन होंने सस्ते
वित्त वर्ष 2019-20 से बैंक एमसीएलआर के बजाय आरबीआई के रेपो रेट के आधार पर ऋण देंगे.
यानी की अब RBI के रेपो रेट घटाने के बाद तुरंत बाद ही बैंकों को भी अपनी ब्याज दरें घटानी होंगी जिससे सभी तरह का कर्ज सस्ता होने की उम्मीद की जा सकती है.
टीडीएस सीमा भी बढ़ी
इस वित्त वर्ष टीडीएस की सीमा 10 हजार से बढ़कर 40 हजार हो गई है.
यानी की ब्याज से होने वाली आय पर स्त्रोत पर टैक्स कटौती की सीमा 10 हजार से बढ़ कर 40 हजार हो गयी है. इसके होने से बैंकों व डाकघरों से ब्याज मिलने में ग्राहकों को ज्यादा लाभ होगा.
ऑटोमेटिक ट्रांसफर होगा पीएफ
सोमवार से नए नियमों के मुताबिक नौकरी बदलने पर सभी संस्थानों के कर्मचारियों का पीएफ अकाउंट अपने आप ट्रांसफर हो जाएगा.
गौरतलब है कि अभी तक ईपीएफओ के सदस्यों को UAN रखने के बाद भी पीएफ ट्रांसफर करने के लिए अलग से आवेदन करना पड़ता था.

पढ़ेंइस लोकसभा चुनाव में खर्च होंगे 50 हजार करोड़ रुपए, बनेगा दुनिया का सबसे महंगा इलेक्शन

आधार से पैन लिंक अनिवार्य
सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश के मुताबिक सभी पैन धारकों को अपना पैन अकाउंट आधार कार्ड से लिंक कराना जरूरी है. इसके लिए अंतिम तारीख 31 मार्च थी.
रेलवे के दो पीएनआर होंगे लिंक
बता दें कि रेलवे 1 अप्रैल 2019 से उन यात्रियों के लिए एक संयुक्त पीएनआर जारी करेगा जिन्हें अपनी यात्रा के दौरान दो ट्रेनें बदलनी पड़ती है.
ऐसे यात्रियों के लिए एक संयुक्त पीएनआर जनरेट होगा, सिर्फ यही नहीं एक अप्रैल से कनेक्टिंग ट्रेन छूटने पर टिकट की रकम वापस हो जाएगी.