नए साल के जश्न में कहीं आप भी तो नहीं करने जा रहे ये गलतियाँ, हो जाइये सावधान

demo pic

New Year Celebration : नए साल के मौके पर कोशिश कीजिये कि आप इन गलतियों को ना करें 

New Year Celebration : अब हम नए साल से बस एक कदम दूर खड़े हैं, हम सभी आने वाले साल के लिए उत्साहित हैं.

यकीनन ऐसे में बहुत से लोग ऐसे भी होंगे जो इस नए साल को लेकर प्लान्स बनाने में भी जुट चुके हैं.
लेकिन हम में से कई ऐसे भी रहते हैं जो इस नए साल के जोश में जाने-अनजाने कुछ ऐसी गलतियाँ कर बैठते हैं जिसके चलते हमारे परिवार और चाहनेवालों को भी पछताना पड़ता है. 
आज हम यहाँ कुछ ऐसी ही गलतियों के बारे में बात करेंगे जो आजकल के युवा जोश-जोश में कर बैठते हैं.
हमारी आपसे अपील रहेगी की नए साल के मौके पर कोशिश कीजिये कि आप उन गलतियों को ना करें और अपने परिवार को खुश रहने का एक मौका दें.
New Year Celebration
demo pic
पहली गलती नशा:
ये बात तो हम सभी जानते और मानते हैं कि देश की युवा पीढ़ी ही इसका सबसे बड़ा हथियार है.
हर कदम पर कुछ नया कर गुजरने की चाह रखना, नित नई- नई चुनौतियों का सामना करने केलिए तैयार रहना और संकल्प शक्ति ऐसी कि जो एक बार करने की ठान लें तो लाख मुश्किलें भी उसको बदल न पाएंऐसी बातों से लैस है हमारी युवा पीढ़ी.
लेकिन आज की युवा पीढ़ी को शायद अपनी इन ताकतों का अंदाजा नहीं है कि वह अगर चाहे तो इस देश की सारी रूप-रेखा ही बदल सकती है.
पढ़ें – बड़ा फैसला : अब ट्रांसजेंडर की शिकायत पर भी दर्ज होगी सैक्सुअल हैरेसमेंट की FIR
इन बातों से अंजान हमारी आज की जनरेशन अपने ही हाथों से अपने जीवन और भविष्य को बर्बाद करने के रास्ते पर चल पड़ी है.
दुनियाभर की दिखावटों, पाश्चात्य संस्कृति से प्रभावित होकर हम कहीं ना कहीं अपने आदर्शों और संस्कारों को खोते चले जा रहे हैं.
एक हाथ में सिगरेट और दूसरे हाथ में दारु की बोतल लिए पार्टियों में युवाओं को देखा जाना अब आम हो चला है.
नए साल पर भी देश के कोने-कोने से ऐसी तस्वीरें जायज़ हैं आएँगी ही. लड़के तो लड़के अब तो लड़कियां भी सिगरेट, शराब पीने में पीछे नहीं हैं.
ऐसे में अगर ये कहा जाये कि आज के युवाओं की पार्टी बिना नशे के अधूरी है तो ये गलत नहीं होगा
अफ़सोस की बात है कि मेट्रो की तर्ज पर अब यह कल्चर देश के छोटे शहरों में भी पैर पसारने लगा है.
यहाँ ये बात ज्यादा चौंकाने वाली है कि अब बात सिर्फ सिगरेट, शराब तक ही सीमित नहीं रह गई है.गांजा, चरस, अफीम,और महंगे से महंगे  ड्रग्स तक भी पहुंच चुकी हैं.
ऐसे में नए साल पर शराब की बोतल में डुबकी लगाते युवा कभी कभार वाकई काफी भयंकर नज़ारा दे जाते हैं.
ज़रा सोचिये कि क्या कुछ पल की खुशियों के लिए किया गया ये मज़ा हम टाल या अपनी ज़िन्दगी से पूरी तरह से निकाल नहीं सकते क्या?
New Year Celebration
demo pic
दूसरी गलती: तेज़ स्पीड में गाड़ी चलाना:
नशा तो हो गयी एक गलती, इसके अलावा जो एक और बड़ी गलती हमारे देश के युवा जोश-जोश में कर बैठते हैं वो है नशे में होते हुए गाड़ी उठाकर सड़कों पर निकल जाने की.
शायद यही वजह है जिसके चलते नए साल की सुबह के अख़बार इन युवाओं के एक्सीडेंट में जान गंवाने से भरे रहते हैं.
पढ़ें बीड़ी पीने से देश को सालाना हो रहा 80,000 करोड़ का नुकसान, पढ़िए ये ख़ास रिपोर्ट
सोचने वाली बात है कि ऐसी भी भला क्या मजबूरी ऐसा भी भला क्या शौक जो आपकी जान लेने पर अमादा हो और आप भी जोश-जोश में इस शौक को पूरा कर बैठने की गलती करते हैं.
फुर्सत में हों तो बैठ कर इस समस्या के बारे में सोचियेगा. वैसे हम यहाँ ऐसा बिलकुल भी नहीं कह रहे कि हमारा पूरा का पूरा युवा वर्ग इन बुराईयों की चपेट में है.
साथ में यह बात भी उतनी ही सच है कि इसी देश के युवाओं ने अपना एक स्वर्णिम आकाश तैयार किया है, खेल से लेकर राजनीति तक और उद्योग से लेकर कला तक के अनेकों ऐसे क्षेत्र में नाम कमाया और बनाया है.
जहाँ तक पहुंचना सबके बस की बात नहीं होती, लेकिन जो बुराई में जकड़े हैं, क्या वह इस देश की जिम्मेदारी नहीं है?
सोचियेगा,इस पोस्ट के माध्यम से हम देश के हर उस युवा को सचेत करना चाहते हैं जो गलती से भी इन गलतियों की चपेट में पहुँच चुका है.
इस नए साल के जश्न को मनाने के अनेकों तरीके हैं, उन्हें अपनाइए. जान की बाज़ी खेलकर भी भला कोई जश्न मनाया जा सकता है क्या?