Home एनजीओ समाचार 18000 एनजीओ ने 2010-2015 के दौरान नहीं दाखिल किया रिटर्न

18000 एनजीओ ने 2010-2015 के दौरान नहीं दाखिल किया रिटर्न

SHARE
ngo's new rule
demo pic
भारत में एनजीओ की फंडिग को लेकर लगातार सवाल उठते रहते हैं. राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में बताया गया कि देश में करीब 18000 से अधिक ऐसे गैर-सरकारी संगठन है, जिन्होंने पिछले पांच सालों का आय और व्यय का विवरण नहीं दिया.
गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू नें राज्य सभा में लिखित उत्तर में जानकारी दी कि 18,000 से अधिक गैर-सरकारी संगठनों ने वित्तीय वर्ष 2010-11 से 2014-15 तक वार्षिक रिटर्न दाखिल नहीं किया था.
उन्होंने कहा कि 8,000 से अधिक गैर सरकारी संगठनों ने सरकार के निर्देशों का अनुपालन किया. जबकि करीब 6000 एनजीओ को कारण बताओ नोटिस भेजा गया था.
मंत्री ने यह भी कहा कि विदेशी संविदाकरण अधिनियम (एफसीआरए), 2010 के तहत पंजीकृत गैर-सरकारी संगठनों के अवैध खातों के साथ ही उन्हें मान्य करने के लिए कहा गया था.
श्री रिजिजु ने कहा कि वर्तमान में करीब 25000 एनजीओ एफसीआरए, 2010 के तहत पंजीकृत हैं, और रिकॉर्ड के अनुसार, 20,000 से अधिक एनजीओ के पास वैध बैंक खाता संख्या है.