NIA ने भारत में ISIS मॉड्यूल का किया भंड़ाफोड़, इंजीनियर निकला गैंग का मास्टरमाइंड

ISIS India Module Busted
PC - AAJ TAK

ISIS India Module Busted : इन 10 लोगों का सम्बन्ध  ISIS के नए मॉड्यूल ‘हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम’ से बताया जा रहा है.

ISIS India Module Busted : चुनाव नजदीक हैं और ऐसे में एक बार फिर पूरा देश हाई अलर्ट पर है, इस बीच दिल्ली में NIA यानी नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी ने एक बड़े आतंकी हमले को नाकाम कर दिया है.

NIA ने दिल्ली और उत्तर प्रदेश में 17 जगहों पर एक साथ छापेमारी कर  एक दो नहीं बल्कि 10 संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है, जो देश में बड़े हमले की फिराक में थे.
बता दें मिली सूचना के अनुसार इन 10 लोगों का सम्बन्ध  ISIS के नए मॉड्यूल ‘हरकत-उल-हर्ब-ए-इस्लाम’ से बताया जा रहा है.
ज्ञात हो इन 1० में से 5 को एक ही जगह उत्तर प्रदेश के अमरोहा से गिरफ्तार किया गया है जिसमें  इनका मुखिया भी शामिल है. 
अमरोहा से सुहैल , सईद (28), रईस अहमद, साकिब इत्तेकर (26) और मोहम्मद इरशाद को गिरफ्तार किया है
वहीं, बाकी के पांच  अनस, राशिद जफर रक,जुबेर मलिक, आजम और जाहिद नामक आतंकियों  को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है. 
पढ़ेंजानें वो पौराणिक महत्व जिस वजह से हम सबको जरूर जाना चाहिए कुंभ
बताा जा रहा है कि पकड़े गए इन सभी आतंकियों की उम्र 20 से 29 वर्ष के बीच की है. साथी ही ये भी पता चला है कि इस पूरे गैंग का मास्टरमाइंड सुहैल सिविल इंजीनयर के थर्ड ईयर का स्टूडेंट है.
सुहैल ने ही अपने सहयोगियों के लिए पैसा इकट्ठा किया, हथियार खरीदे और बम बनाने की सामग्री भी खरीदे  
क्या क्या मिला मौके से
 NIA से मिली जानकारी के मुताबिक छापेमारी वाली जगह से पोटेशियम नाइट्रेट, सल्फर, शुगर पेस्ट, मोबाइल फोन सर्किट, बैटरी, 51 पाइप, वायरलैस घंडियां, स्टील कंटेनर, बिजली की तारें, चाकू, तलवारें व 25 किलोग्राम विस्फोटक सामग्री बरामद हुईहै
वहीं इसके अलावा उनके पासे से ‘करीब 100 मोबाइल फोन, 135 सिम कार्ड, 7.5 लाख रुपए भी जब्त किए गए हैं.
वहीं सूत्रों की मानें तो अभी इस मॉड्यूल के तहत अभी और भी गिरफ्तारी हो सकती हैं. कहा जा रहा है की इन्ही  विदेश से कोई हैंडलर निर्देशित कर रहा था. 
अधिकारी ने कहा ये…
आईजी आलोक मित्तल ने कहा कि यह एक नया ISIS प्रेरित मॉड्यूल है जिनके निशाने पर राजनीतिक व्यक्ति,भीड़भाड़ वाले इलाके और महत्वपूर्ण सुरक्षा प्रतिष्ठान थे.
उन्होंने कहा की तैयारी के स्तर से पता चलता है कि उनका उद्देश्य निकट भविष्य में रिमोट कंट्रोल विस्फोटों और फिदायीन हमलों द्वारा विस्फोट करना था. 
पढ़ें – इंडोनेशिया में ही क्यों आती हैं सबसे अधिक प्राकर्तिक आपदा ? जानना चाहेंगे आप
मित्तल ने कहा की NIA को खूफिया जानकारी मिली थी कि आईएस समर्थक व्यक्तियों के एक समूह ने एक आतंकवादी गिरोह बनाया है और वे दिल्ली व NCR में बड़ा हमले कर सकते हैं.
इसके अलावा आईजी ने देश के सभी नागरिकों को भी अलर्ट रहने की अपील करी और कहा कि अगर आपके आस पास यदि कोई ऐसी घटना घटे जो आम न हो उसे तुरंत सूचित कीजिए.
बता दें यह पहली बार नहीं है जब भारत में इलेक्शन से पहले ऐसे आतंकी पकड़े गए हैं. इससे पहले  भी कई बार ऐसी घटनाएं हुई हैं.