Home पॉलिटिकल 360° By-Election Results 2018 : यूपी उपचुनाव में बसपा-सपा ने दिखाया दम वहीं...

By-Election Results 2018 : यूपी उपचुनाव में बसपा-सपा ने दिखाया दम वहीं बिहार में RJD ने मारी बाजी

SHARE
By-Election Results 2018
pic courtesy - india news

By-Election Results 2018 : बिहार के एक विधानसभा सीट पर मिली भाजपा को जीत

By-Election Results 2018 : लोकतंत्र में कब क्या हो जाए किसी को पता नहीं होता. पूरा देश जहां भगवामई होने के कगार पर है, उसी बीच लगता है जैसे किसी ने उसके चुनावी रथ के पहिए को पंचर करने का काम किया है.

दरअसल बीजेपी को देश के 2 बड़े राज्य यूपी और बिहार के उपचुनाव में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा है.
बता दें कि आज यानि की 14 मार्च को यूपी के फूलपुर और गोरखपुर के साथ ही साथ बिहार के अररिया लोकसभा और जहानाबाद एवं भभुआ के विधानसभा सीट पर 11 मार्च 2018 को चुनाव हुए थे जिसके चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं.
गौरतलब है कि इस उपचुनाव में बिहार के सिर्फ भभुआ विधानसभा सीट पर ही बीजेपी का कमल खिला है बाकि की सीटों पर आरजेडी अपना लालटेन जलाने में सफल हुई है.
यह भी पढ़ें – सपा के नरेश और राजस्थान में किरोड़ी लाल को पार्टी का गमछा ओढ़ाने वाली बीजेपी के जानिए क्या है राजनीतिक समीकरण
यूपी उपचुनाव में बसपा-सपा का बोलबाला
यूपी की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों के नतीजों से बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. दोनों ही सीटों पर बसपा समर्थित सपा उम्मीदवारों ने भारी मतों से अपनी जीत दर्ज कर ली है.
समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी समर्थित उम्मीदवार नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल ने फूलपुर लोकसभा सीट जीत ली है,तो वहीं गोरखपुर सीट पर प्रवीण निषाद ने जीत दर्ज कराई है.
सीएम योगी के गढ़ में बीजेपी की हार
योगी आदित्यनाथ के सीएम बन जाने के कारण गोरखपुर की सीट खाली हो गई थी जिसके कारण वहां उपचुनाव कराए गए थे. लेकिन इस उपचुनाव में सीएम योगी के गढ़ में 29 साल बाद बीजेपी की हार हुई है और वह भी तब जब उसके सांसद इस समय सीएम की कुर्सी पर विराजमान है
गोरखपुर से सपा उम्मीदवार प्रवीण निषाद ने भाजपा के उपेंद्र शुक्ल को 21 हजार से अधिक वोटों से शिकस्त दे दी है. वहीं फुलपूर से सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल ने भाजपा उम्मीदवार कौशलेंद्र पटेल को 59,613 मतों से शिकस्त दी है.
बता दें कि आजादी के बाद पहली बार मोदी लहर में फूलपुर में भाजपा का 2014 के लोकसभा चुनाव में खाता खुला
था जहां केशव प्रसाद मौर्य ने भाजपा प्रत्याशी के तौर पर जीत दर्ज की थी.
लेकिन उनके उप मुख्यमंत्री बनने के बाद से ये सीट खाली हो गई थी और फिर से वहां बीजेपी ने अपनी सीट गंवा दी.
यह भी पढ़ें – टीडीपी की नाराजगी की वजह बीजेपी या भारत सरकार, जानिए क्या है इस अलग होने की पूरी राजनीतिक कहानी
अररिया-जहानाबाद में RJD की जीत
जिन लोगों का कहना था कि लालु यादव और उनकी पार्टी जल्द ही बिहार से खत्म होने वाली है उनके लिए उपचुनाव के ये नतीजे बोलती बंद करने जैसा था .
अररिया लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में आरजेडी के प्रत्याशी सरफराज आलम ने 61988 वोटों से जीत दर्ज की है.
इसके अलावा जहानाबाद विधानसभा सीट पर भी आरजेडी के कृष्ण मोहन ने जीत दर्ज की.
बिहार उपचुनाव के नतीजों पर तेजस्वी यादव ने कहा कि जो लोग कहते थे कि लालूजी खत्म हो गए है, आज हम उनको कह सकते हैं कि लालू एक विचारधारा का नाम है जिसे लोगों के दिमाग से हटाना इतना मुश्किल नहीं है.
तेजस्वी ने कहा कि बिहार की जनता को इस जीते के लिए धन्यवाद देता हूं और साथ ही मांझीजी को भी धन्यवाद देता हूं.
भभुआ विधानसभा सीट पर खिला कमल
हालांकि इस पूरे उपचुनाव में सिर्फ बिहार की भभुआ विधानसभा सीट पर ही बीजेपी अपनी लाज बचाने में कामयाब रही है. भभुआ विधानसभा सीट पर बीजेपी की रिंकी रानी को जीत मिली है.
बता दें कि भभुआ से बीजेपी विधायक आनंद भूषण पांडेय के निधन से ये सीटेंखाली हुई थीं. जिसपर एनडीए की तरफ से बीजेपी ने उनकी पत्नी रिंकी रानी पांडेय को चुनावी मैदान में उतारा जबकि महागठबंधन की तरफ से कांग्रेस ने शंभू सिंह पटेल को उम्मीदवार बनाया था.