Home पॉलिटिकल 360° कांग्रेस महाधिवेशन में नए तेवर के साथ सामने आए राहुल गांधी, बीजेपी...

कांग्रेस महाधिवेशन में नए तेवर के साथ सामने आए राहुल गांधी, बीजेपी के खिलाफ कार्यकर्ताओं में भरा जोश

SHARE
Congress Plenary Session
फोटा साभार - ट्वीटर

Congress 84th Plenary Session : राहुल गांधी के नेतृत्व में हो रहा पहला अधिवेशन

Congress 84th Plenary Session : आज यानि की 17 मार्च से दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस का दो दिवसीय  84वां महाधिवेशन शुरू हो गया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस महाधिवेशन में देश भर से कांग्रेस के 3 हजार प्रतिनिधि और 15 हजार से
अधिक पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को आमंत्रित किया गया है.
नई उर्जा के साथ सामने आए पार्टी अध्यक्ष राहुल
हर तरफ जहां बीजेपी का परचम लहरा रहा है वहां कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष अपनी पार्टी के लोगों का मनोबल बढ़ाने के लिए अधिवेशन में एक सेनापति की भूमिका में सामने आए हैं.
यही नहीं पार्टी के इस 84वें महाधिवेशन में देशभर से जमा हुए पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है. उनकी आंखों में यह आस है कि राहुल गांधी की नुमाइंदगी में पार्टी की​​ किस्मत ​फिर संवरेगी.
बता दें कि राहुल गांधी ने नई उर्जा और नई ताकत के साथ महाधिवेशन की आज विधिवत शुरुआत की है, राहुल ने ध्वजारोहण और राष्ट्रगीत के बाद वहां उपस्थित सभी लोगों को उत्साह के साथ संबोधित करते हुए पार्टी के प्रति कर्तव्यों को याद दिलाया.
खास बात यह है कि पिछले साल दिसंबर में राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद उनके नेतृत्व में कांग्रेस का यह पहला महाधिवेशन है.
यह भी पढ़ें – जानिए केजरीवाल और मजीठिया का क्या है पूरा मामला, आखिर क्यूं आप पार्टी में हो रहा है विघटन
राहुल गांधी ने 2019 के रणनीति का किया खुलासा
महाधिवेशन में राहुल गांधी ने अपनी पार्टी के 2019 के रणनीति का खुलासा किया और कहा कि वह सभी समान विचारधारा वाले दलों के साथ सहयोग करने के लिए एक साझा व्यावहारिक कार्य प्रणाली विकसित करेंगे.
राहुल ने कहा कि देश को सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही रास्ता दिखा सकती है, कांग्रेस पार्टी प्यार और भाईचारे का प्रयोग करती है जबकि विपक्ष क्रोध का इस्तेमाल करती है. उन्होंने अपने अभिभाषण में कहा कि कांग्रेस पार्टी देश के प्रत्येक व्यक्ति के लिए काम करेगी.
बीजेपी पर साधा जमकर निशाना
राहुल गांधी आज अपने भाषण में काफी आवेश में दिखे. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि बीजेपी राज में राजनीति पूरी तरह से भ्रष्ट हो चुकी है वो फूट डालने का काम करती है और हमारा काम जोड़ने का है.
उन्होंने कहा कि यह हाथ का निशान (कांग्रेस का चुनाव चिन्ह) ही देश को जोड़ सकता है, देश को आगे ले जा सकता है.
राहुल ने अपने कार्यकर्ताओं के अंदर जोश भरते हुए कहा कि कांग्रेस के इस निशान की शक्ति आप पार्टी प्र​तिनिधियों के भीतर है और हम सबको देश की जनता के साथ मिलकर भारत को जोड़ने का काम करना होगा.
यह भी पढ़ें – अरसे बाद पब्लिक प्लेटफॉर्म पर नजर आईं मैडम सोनिया, मीडिया के सामने खोले कई निजी और राजनैतिक राज
युवाओं और बेरोजगारी पर दिया जोर
राहुल ने अपने करीब 4 मिनट के भाषण में उन सभी मुद्दों को छुआ जिसके बहाने कांग्रेस मोदी सरकार पर सवाल उठाती रही है.
राहुल गांधी ने कहा कि युवा जब मोदीजी की ओर देखता है तो उन्हें रास्ता नहीं दिखता उन्हें यह बात समझ नहीं आती कि उन्हें रोजगार कहां से मिलेगा? किसानों को सही दाम कब मिलेगा?
उन्होंने कहा कि मैं दिल से कहता हूं कि कांग्रेस पार्टी ही देश को रास्ता दिखा सकती है.
कांग्रेस के दिग्गजों ने महाधिवेशन में की शिरकत
कांग्रेस का 84वां महाधिवेशन 2 दिनों तक चलने वाला है आज इसका पहला दिन है.
गौरतलब है कि अधिवेशन में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, वरिष्ठ नेता ए के एंटनी, पी चिदंबरम,जनार्दन द्विवेदी और पार्टी के प्रदेश इकाइयों के अध्यक्ष, जिला-ब्लाक स्तर के प्रतिनिधि समेत 12 हजार से अधिक कार्यकर्ता भाग ले रहे हैं.
इसके साथ ही आज कांग्रेस पार्टी की सियासी प्राथमिकताओं की बानगी देती पांच पुस्तिकाओं का भी आवरण किया गया है.
जिसमें अर्थव्यवस्था, राष्ट्रीय सुरक्षा, किसानों के मुद्दे और एनडीए सरकार के राज में हुए घोटाले और युवाओं, महिलाओं, दलितों से जुड़े मुद्दों को उठाया गया है.