Home पॉलिटिकल 360° कैग की रिपोर्ट में उजागर हुआ दिल्ली का राशन घोटाला, क्या लालू...

कैग की रिपोर्ट में उजागर हुआ दिल्ली का राशन घोटाला, क्या लालू को गुरु मान बनाई गई प्लानिंग ?

SHARE
Delhi Ration Scam

Delhi Ration Scam : जानिए रिपोर्ट में क्या है विशेष

Delhi Ration Scam : दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही है.

मानहानी के मुकदमें से खुद को बचाने के लिए अभी अपने माफीनामा का निपटारा किया ही था कि फिर एक नया विवाद उनके सामने आ खड़ा हुआ है.
इस बार ये मामला नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट के काऱण उजागर हुए उनकी सरकार में कथित घोटाले से जुड़ा है.
क्या है कैग की रिपोर्ट ?
नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने दिल्ली में हुए घोटाले को लेकर आपनी एक रिपोर्ट पेश की है जिसमें उन्हें दिल्ली में राशन वितरण में बड़ी अनियमितताएं देखने को मिली हैं.
सीएजी ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि बिहार के चारा घोटाले की तरह दिल्ली में भी मोटरसाइकिल और टेंपो पर अनाज ढोया गया जो साफतौर पर एक बड़ा राशन घोटाले के होने का संकेत देता है.
यह भी पढ़ें – जानिए केजरीवाल और मजीठिया का क्या है पूरा मामला, आखिर क्यूं आप पार्टी में हो रहा है विघटन
रिपोर्ट में क्या है विशेष
कैग की रिपोर्ट में एक विशेष बात सामने आई है कि दिल्ली में भारतीय खाद्य निगम (FCI) गोदाम से राशन वितरण केंद्रों पर 1589 क्विंटल राशन की ढुलाई के लिए 8 ऐसी गाड़ियों का इस्तेमाल किया गया है जिनका रजिस्ट्रेशन नंबर बस, टेंपो और स्कूटर-बाइक का था.
इसमें सबसे हैरानी की बात तो यह है कि 2016-17 में जिन 207 गाड़ियों को राशन ढुलाई के काम में लाया गया उनमें 42 गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन ही नहीं हुए हैं.
सीएजी रिपोर्ट पर सियासत हुई तेज
गौरतलब है कि दिल्ली में अनियमितताओं पर सीएजी के रिपोर्ट पर अब सियासत तेज हो गई है, समूचे विपक्ष ने एक साथ दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर हमला बोल दिया है.
बुधवार को प्रेसवार्ता में दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आम आदमी पार्टी सरकार और उनके मुखिया पर चुन-चुनकर हमले बोले.
उन्होंने कहा कि दिल्ली में बिहार जैसा चारा घोटाला हुआ है फर्क बस इतना है कि वहां जानवरों का चारा खाएगा और यहां गरीबों का राशन.
मनोज तिवारी ने कहा कि केजरीवाल छोटे लालू हो गए हैं यही नहीं उन्होंने केजरीवाल को पद से इस्तिफा देने की मांग भी कर दी है.
यह भी पढ़ें – सिर्फ भारत ही नहीं पूरे विश्व में फेक न्यूज को लेकर मचा हुआ है बवाल, जानिए आखिर क्या है पूरा मसला

 कपिल मिश्रा ने लिया आड़े हाथ

वहीं आप के बागी नेता और विधायक कपिल मिश्रा ने इस मसले को आड़े हाथ ले लिया है. कपिल मिश्रा ने कहा कि CAG रिपोर्ट के आधार पर शुक्रवार को वो खुद CBI दफ्तर जाकर मंत्री इमरान हुसैन की शिकायत करेंगे.
उन्होंने आरोप लगाया है कि दिल्ली सरकार की राशन माफिया से सीधी मिलीभगत है, जिसके जिम्मेदार खुद मंत्री इमरान हुसैन है.
मिश्रा ने आरोप लगाया कि कुछ दिनों पहले दिल्ली में 4 लाख नकली राशनकार्ड पकड़ में आये थे लेकिन मंत्री जी उन राशनकार्डों को रद्द ना करने के आदेश दिए थे.
उन्होंने कहा कि इन नकली राशनकार्डों के जरिए हर महीने 150 करोड़ रुपये के राशन का घोटाला किया गया है जो एक साल में 1800 करोड़ और तीन साल में 5400 करोड़ रुपये का हो गया है.
बहरहाल अबतक इस मामले में मुख्यमंत्री केजरीवाल की तरफ से कोई टिप्पणी नहीं आई है. लेकिन अब देखना दिलचस्प होगा कि भ्रष्टाचार मुक्त भारत बनाने वाले केजरीवाल अपनी सरकार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर क्या बयान देते हैं.