Home पॉलिटिकल 360° मनी लॉन्ड्रिंग केस में लालू की दुलारी को मिली राहत, कोर्ट ने...

मनी लॉन्ड्रिंग केस में लालू की दुलारी को मिली राहत, कोर्ट ने मंजूर की जमानत अर्जी

SHARE
Misa Bharti Money Laundring Case
File Photo(NF)

Misa Bharti Money Laundring Case : 2 लाख के मुचलके पर मिली जमानत

Misa Bharti Money Laundring Case : राजद सुप्रीमों लालु प्रसाद यादव की बड़ी बेटी मीसा भारती को मनी लॉन्ड्रिंग केस में कोर्ट से राहत मिल गई है.

5 मार्च यानि कि आज कोर्ट में पेशी के बाद मीसा भारती और उनके पति शैलेश को दिल्ली की सीबीआई कोर्ट ने जमानत दे दी है.
बता दें कि पिछले मई महीने से मीसा और उनके पति पर अवैध तरीकों से फार्म हाउस की खरीद के मामले में यह केस चल रहा है, जिसमें आज सीबीआई कोर्ट ने उन्‍हें दो-दो लाख के मुचलके पर जमानत दे दी है.
यह भी पढ़ें – PNB Scam : जानिए कौन है नीरव मोदी और कैसे लगाया उसने सरकारी बैंक को 11,300 करोड़ का चूना
मीसा भारती पर क्या है आरोप
मीसा भारती और उनके पति शैलेश पर ईडी ने मनी लांड्रिंग का केस मई में शुरू किया था, जिसमें तफ्शीत करते हुए उनपर आगे कई आरोप और भी जुड़ गए.
गौरतलब है कि मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार पर 8 हजार करोड़ रुपये मनी लांड्रिंग के जरिये अपनी कंपनी मैसर्स मिसाइल पैकर्स एंड प्रिंटर्स प्रा. लिमिटेड के नाम से कई जगह खपाया गया था, जिसमें से दिल्ली के फार्म हाउस खरीद बी था.
ऐसा बताया जा रहा है कि यह पैसा 2008-09 में शैल कंपनियों के जरिए आया था जब लालू यादव रेलमंत्री थे.
इस मामले में सीबीआई और ईडी ने मई महीने में दोनों पति पत्नी की संदिग्ध भूमिका मानते हुए केस चलाने की शुरूआत की थी.
ईडी ने केस दर्ज होने के बाद सबसे पहले मीसा और शैलेश के ठिकानों पर 8 जुलाई को छापेमारी की जहां उसने कुछ जरूरी दस्तावेजों को कब्जे में लेते हुए दोनों से घंटों पूछताछ करी थी.
इसके बाद तो मियां बीवी को कई ईडी ने पुछताछ के लिए बुलाया, यही नहीं कई बार बुलावे पर भी ना जाने के लिए मीसा कोर्ट की अवहेलना करने का खामियाजा भी भर चुकी हैं.
यह भी पढ़ें – नार्थ ईस्ट में हुआ भगवा उदय, जनता ने कहा अब नहीं कहेंगे लाल सलाम !
पति के नाम पर बचने की करी कोशिश
कुछ दिनों पहले मीसा भारती ने इस मामले से अपना पल्ला झाड़ने की कोशिश करते हुए ईडी को बताया था कि वो जिस कंपनी के खिलाफ जांच कर रहे हैं उसका जिम्मा उनके पति शैलेश कुमार और मृत सीए संदीप शर्मा के कंधों पर था इससे उनका कोई रिश्ता नहीं है.
मगर जांच के बाद यह बात साफ हो गई है कि पूरा केस मीसा और उनके पति की मिली भगत की नतीजा है.
देश से बाहर जाने पर मनाही
जमानत देते हुए सीबीआई कोर्ट ने मीसा और उनके पति को देश से कहीं भी बाहर ना जाने का आदेश दिया है.
वहीं ईडी ने इस केस से जुड़ें दिल्ली स्थित फार्म हाउस को अपने कब्जा में ले रखा है और कोर्ट से अपने जांच को पूरा करने के लिए कुछ समय की मोहलत मांगी है.