Home सरकारी अड्डा देश के मजदूरों को मिलेगा अलग पहचान संख्या- संतोष गंगवार

देश के मजदूरों को मिलेगा अलग पहचान संख्या- संतोष गंगवार

SHARE
मजदूरों
श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार
देश में मजदूरों की हालत को सुधारने के लिए सरकार उन्हें एक अलग पहचान संख्या प्रदान करने जा रही है.
भारत सरकार में श्रम और रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि संगठित और असंगठित दोनों क्षेत्रों से जुड़े मजदूरों के सुधार के लिए उन्हें एक अलग पहचान संख्या आवंटित की जाएगी.
श्रम मंत्री गंगवार ने जानकारी दी कि मजदूर संगठनों के बीच बेहतर समन्वय स्थापित करने के लिए सरकार की तरफ से 14 सितंबर को मान्यताप्राप्त मजदूर संगठनों के प्रतिनिधियों को नई दिल्ली में आमंत्रित किया गया है.
जहां हम सभी देश के अंदर मजदूर सुधारों की प्रक्रिया को गति देने के लिए चर्चा करेंगे.
इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक समारोह में सोमवार रात गंगवार जी ने बोलते हुए बताया कि सरकार ने चार अप्रासंगिक श्रम कोनून को हटा दिया है. और 36 अन्य प्रसांगिक कानूनों को हटाने पर विचार किया जा रहा है.
गौरतलब है कि राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण संगठन (एनएसएसओ) के अनुसार 2009-10 के सर्वेक्षण के मुताबिक असंगठित क्षेत्र में मजदूरों का देश के कुल कार्यबल का 93 प्रतिशत से अधिक का योगदान रहता है.
जो कि देश की कुल आबादी का  430 मिलियन और 471 मिलियन के बीच है. इसके साथ ही साथ देश की जीडीपी में भी इन मजदूरों की मेहनत का काफी योगदान रहता है.
इस समारोह में श्रम मंत्री ने यह भी कहा कि आने वाले दिनों मे जीएसटी के अच्छे परिणाम देश के सामने उभर कर आएंगे. जिससे व्यापारियों और उद्यमियों के साथ-साथ पूरा भारत भी लाभान्वित होगा.