Home सरकारी अड्डा रिजर्व बैंक: आपके असली नोट भी बैंक कर सकते हैं अस्वीकार, जानें...

रिजर्व बैंक: आपके असली नोट भी बैंक कर सकते हैं अस्वीकार, जानें वजह

SHARE
रिजर्व बैंक | reserve bank
demo pic

अगर आप की नोटों पर कुछ लिखने या उससे छेडछाड़ करने की आदत है तो यह खबर आपके लिए है. क्योंकि रिजर्व बैंक ने नोटों को लेकर नई एडवाइजरी जारी की है.

दरअसल नोटबंदी के बाद से ही लगातार सरकार की तरफ से पैसों के नकद लेन देन की प्रक्रिया को कम करने के लिए तमाम कोशिशें की जा रही है. सरकार की मंशा है कि लोग डिजिटल बैंकिंग के माध्यमों से अपने पैंसों का लेन देन करे. लेकिन आज भी लोगों का नकद लेन-देन करने पर ही विश्वास बना हुआ है.
ऐसे में रिजर्व बैंक की तरफ से नोटों को लेकर एक नई एडवाइजरी जारी की गई है. हालांकि रिजर्व बैंक ने इस सर्कुलर को 3 जुलाई 2017 को ही जारी कर दिया था. जानें किन स्थितियों में रिजर्व बैंक ने सभी बैंकों को आपके नोट स्वीकार करने से मना किया हुआ है.
राजनीतिक नारे लिखे नोट बैंक नहीं करेगा स्वीकार
यदि किसी नोट के एक सिरे से दूसरे सिरे तक कोई नारा या कोई वाक्य लिखा अथवा राजनीतिक संदेश लिखा हो तो यह नोट कानून तौर अमान्य घोषित कर दी जाएगी. और ऐसे नोटों को निरस्त कर दिया जाएगा.
जानबूझकर फाड़े गए नोट
यदि किसी व्यक्ति द्वारा नोट को जानबूझकर फाड़ा जाता है तो उसे भी निरस्त कर दिया जाएगा. क्योंकि ऐसे नोटों को ध्यान से देखने पर यह स्पष्ट हो जाता है कि यह कार्य जानबूझकर धोखा देने के उद्देश्य से किया गया है, ऐसे नोटों के गायब हुए टुकड़ों में एकरूपता देखने को मिलती है. यानी कि ये नोट किसी खास जगह पर ही विकृत होते हैं. इस प्रक्रिया को अंजाम अक्सर लोग बड़ी मात्रा में नोट बदलवाने के लिए करते हैं.
मुहर लगी नोट भी नहीं लेगा बैंक
ऐसे कटे-फटे, दोषपूर्ण नोट जिन पर भारतीय रिजर्व बैंक के किसी भी निर्गम कार्यालय या किसी बैंक शाखा की ‘निरस्त’ की मुहर लगी हो, तो वो नोट फिर किसी बैंक में नहीं लिए जाएंगे. बैंक शाखाओं को हिदायत दी गई है कि वो अपने ग्राहकों को सावधान कर दें कि वे किसी भी अन्य बैंक या व्यक्ति से ऐसे नोट न लें.
खस्ताहाल नोट भी होगें दरकिनार
ऐसे नोट जो बहुत ही खस्ताहाल,बुरी तरह से जले गए हों,या टुकडे-टुकडे हो गए हों अथवा आपस में चिपके हुए रह गए हों, उन्हें भी किसी बैंक शाखा में नहीं बदला जाएगा.
क्या कहती है रिजर्व बैंक की नियमवाली 2009
हालांकि कुछ विशेष प्रक्रिया के तहत रिजर्व बैंक (नोट वापसी) नियमावली, 2009 के नियम 2(ज) के अंतर्गत कटे-फटे दोषपूर्ण/ बैंक नोटों को मुफ्त बदलने के अधिकार दिए गए हैं.