Home सरकारी अड्डा तेलंगाना में मंदिर के पुजारियों को मिलेगा सरकारी कर्मचारी के बराबर वेतन-...

तेलंगाना में मंदिर के पुजारियों को मिलेगा सरकारी कर्मचारी के बराबर वेतन- मुख्यमंत्री

SHARE
तेलंगाना
demo pic
तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने राज्य के मंदिरों में पूजा-पाठ करने वाले याजकों(पुजारी) और अन्य कर्मचारियों को सरकारी नौकरी की तरह हर महीने वेतन का भुगतान करने की घोषणा की है.
मुख्यमंत्री ने यह फैसला राज्य के पुजारियों के साथ हुई अपनी बैठक के बाद लिया.
इस बैठक में उन्होंने नवंबर से राज्य कर्मचारियों की तर्ज पर उन्हें भी मासिक वेतन देने की बात कही.
चंद्रशेखर राव ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में मौजूद तगभग 5,625 याजक और मंदिर कर्मचारियों को प्रत्येक माह की पहली तारीख को उनका वेतन दे दिया जाएगा.
मुख्यमंत्री ने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार के इस फैसले से मंदिर के पुजारियों को काफी मदद मिलेगी.
तेलंगाना
demo pic
उन्होंने कहा कि वर्तमान में इन मंदिर कर्मचारियों की हालत इतनी दयनीय हो गई है कि कोई भी मां-बाप अपनी लड़की की शादी भी इनसे करने को तैयार नहीं.
उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से मंदिरों की उपेक्षा की गई और संयुक्त आंध्र प्रदेश के साथ रहते हुए तेलंगाना में भी इस तरह का अन्याय किया गया.
इसके अलावा मंदिरों की निगरानी के लिए मुख्यमंत्री ने एक धार्मिक परिषद के गठन करने पर भी विचार करने को कहा है.
इसके साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि राज्य के प्राचीन मंदिर यदादिरी, वमुलावाड़ा, भाद्रद्र्री और अन्य मंदिरों को एक नियोजित तरीके से विकसित किया जाएगा.
वहीं दूसरी तरफ सरकार ने प्रत्येक मंदिर को दिए जाने वाले मासिक धनराशि को 2,500 रुपये से बढ़ाकर 6000 कर दिया है.
मुख्यमंत्री ने ब्राह्मणों के कल्याण की बात करते हुए कहा कि सरकार ने इनके लिए भी 100 करोड़ के फंड के साथ ब्राह्मण कल्याण परिषद का गठन को मंजूरी दे दी है.