Home विज्ञान Haryana Mini Aircraft : हरियाणा के कुलदीप ने बाइक के इंजन से...

Haryana Mini Aircraft : हरियाणा के कुलदीप ने बाइक के इंजन से बना डाला मिनी एयरक्राफ्ट

SHARE
haryana mini aircraft

Haryana Mini Aircraft : 1 लीटर पेट्रोल में 12 मिनट हवा में उड़ान

Haryana Mini Aircraft : वो कहते हैं ना अगर इंसान का हौंसला मजबूत हो तो खुद के सपनों को पाने की उड़ान भरने के लिए पंख अपने आप लग जाते हैं.

ऐसा ही उदाहरण पेश किया है हरियाणा के हिसार जिले के आदमपुर हल्के के गांव ढाणी मोहब्बतपुर निवासी बीटेक के छात्र कुलदीप टाक ने.
23 वर्षीय कुलदीप ने देसी जुगाड़ से उड़ने वाली एक अनोखी फ्लाइंग मशीन तैयार की है. ये मशीन 1 लीटर पेट्रोल में करीब 12 मिनट तक आसमान में उड़ सकती है.
 इस मशीन को पैराग्लाइडिंग फ्लाइंग मशीन या मिनी हैलीकॉप्टर का नाम दिया गया है.
आपको बता दें कि कुलदीप ने लगभग 3 साल की कड़ी मेहनत के बाद पैराग्लाइडिंग फ्लाइंग मशीन को आसमान में उड़ाने में सफलता पाई है. दिखने में साधारण लगने वाली यह मशीन उड़ान गजब की भरती है.
चंडीगढ़ से बीटेक की पढ़ाई पूरी करने के बाद ही कुलदीप ने इस प्रोजेक्ट पर काम करना शुरू कर दिया था.
Vallari Chandrakar : इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ बेटी ने किसान बन संवारा अपना भविष्य
बाइक के इंजन से बनाया एयरक्राफ्ट
Haryana Mini Aircraft : कुलदीप ने बताया कि इस मशीन को तैयार करने में करीब ढाई लाख रुपये का खर्च आया है. और इस एयरक्राफ्ट से किसी को कोई खतरा भी नहीं है.
इस मशीन में बाइक का 200CC इंजन और लकड़ी का पंखा लगाया गया है साथ ही साथ जमीन पर उतरने के लिए छोटे टायर भी लगाए हैं.
इसके अलावा मशीन के ऊपर एक पैराग्लाइडर लगाया गया है जो उड़ान भरने और सेफ्टी के साथ लैंडिंग करवाने में सहायक रहता है.
2 हजार फीट तक भरी उड़ान
कुलदीप बताते हैं कि उनका ये एयरक्राफ्ट 10 हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरने में सक्षम है.
गांव चौधरीवाली से आसपास के गांवों में उन्होंने अब तक करीब 2 हजार फीट की ऊंचाई तक उड़ान भरकर इसका सफल प्रयोग भी कर लिया है.
Anjum Saifi: 25 साल पहले हुई पिता की हत्या का बदला लेने के लिए बेटी बनी जज
पहले कोशिश में हो गया था क्षतिग्रस्त
Haryana Mini Aircraftफ्लाइंग मशीन को बनाने में सहयोगी सतीश ने बताया कि इससे पहले भी कुलदीप ने एक एयरक्राफ्ट तैयार किया था, लेकिन वो ट्रायल के दौरान पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया.
इसके बावजूद भी उसने हिम्मत नहीं हारी और फिर से पैराग्लाडिंग फ्लाइंग मशीन बनाने का निर्णय लिया. जिसमें आज जाकर वो कामयाब हो ही गया.
मां को बेटे पर नाज
आपको बता दें कि फिलहाल के लिए इस मशीन में केवल 1 ही व्यक्ति बैठ सकता है.
लेकिन कुलदीप ने दावा किया है कि कुछ ही महीने में उसकी यह मशीन 2 लोगों को लेकर उड़ेगी, जिसमें सबसे पहले वो अपने पिता को बैठाएगा.
वहीं कुलदीप की मां कमला का कहना है कि वो बेटे को हवा में उड़ता देखकर बहुत खुशी हो रही हैं.
उन्होंने बताया कि उनके बेटे ने बड़े साल से इस मशीन को बनाने में मेहनत की है,आखिर अब जा कर इसका फायदा उसे मिला है.

साभार- योर-स्टोरी

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus