Home विज्ञान Rape Proof Pantie : 19 वर्षीय सीनू ने महिलाओं को रेप...

Rape Proof Pantie : 19 वर्षीय सीनू ने महिलाओं को रेप से बचाने के लिए बनाई खास तरह की पैंटी

SHARE
Rape Proof Pantie
फोटो साभार - आज तक

Rape Proof Pantie : जानिए, क्या है इस पैंटी की खासियत

Rape Proof Pantie : देश में लड़कियों से होने वाली रेप की घटनाओं को रोकने के 19 वर्षीय ‘सीनू‘ ने नया मॉडल विकसित किया है.

यह एक ऐसा मॉडल है जिससे कोई भी अपराधी किसी महिला या बच्ची के उपर अपनी हवस मिटाने से पहले 100 बार सोचेगा.
दरअसल सीनू ने एक ऐसी रेप प्रुफ पैंटी बनाई है जो रेप जैसी घटनाओं को रोकने के लिए काफी हद तक असरदार साबित होगी.
क्या है इस पैंटी की खासियत
सीनू के द्वारा बनाई गई ये पेंटी पूरी तरह से इलेक्ट्रानिक तकनीक से लैस है.साथ ही इसमें एक स्मार्टलॉक भी लगा है जिसे सिर्फ पासवर्ड से ही खोला जा सकता है.
इसके अलावा उसे पहनने वाली महिला की लोकेशन बताने के लिए इसमें जीपीआरएस सिस्टम भी लगाया गया है जिसमें घटनास्थल की बातचीत का ऑडियो भी रिकार्ड किया जा सकता है.
बता दें कि यह पैंटी ब्लेडप्रूफ कपड़े की बनी है जिसे चाकू या किसी भी धारदार हथियार से काटा नहीं जा सकता और न ही जलाया जा सकता है.
इसमें एक पैनिक  बटन भी लगाया गया है, जिसे दबाने पर 100 या 1090 नंबर पर ऑटोमैटिकली कॉल चली जाएगी और जीपीआरएस सिस्टम की मदद से पुलिस घटनास्थल पर आसानी से पहुंच सकेगी.
इस घटना से मिली प्रेरणा
बीएससी थर्ड ईयर में पढ़ने वाली सीनू भारत के अंदर रोजाना लड़कियों और महिलाओं के साथ होने वाली रेप की घटनाओं से बहुत चिंतित थी.
मगर एक दिन जब उन्होंने 7 साल की बच्ची के साथ रेप और उसका गला घोंट कर उसकी हत्या करने की खबर पढ़ी तो वो अंदर तक हिल गई. इ
सके बाद उन्होंने इस तरह की घटनाओं से तमाम लड़कियों को बचाने के लिए इस मॉडल पर काम करना शुरू किया.

rape proof pantie

मेनका गांधी ने की सीनू के मॉडल की तारीफ
सीनू के इस अद्भुत मॉडल के बारे में जब केंद्रीय बाल एवं महिला विकास मंत्री मेनका गांधी को पता चला तो उन्होंने उसके इस काम को सराहा और भविष्य में ऐसे अविष्कार करने के लिए शुभकामनाएं दी. रिपोर्ट के मुताबिक इस पैंटी को तैयार करने में 5000 रुपए तक का खर्च आया है.
कई और मॉडल पर भी कर रही काम
छात्रा सीनू इस तरह के कई और मॉडल पर काम कर रही हैं जो समाज के विभिन्न क्षेत्रों में आम लोगों की सहायता करेंगे.
फिलहाल सीनू रेल दुर्घटनओं को रोकने के लिए एक ऐसे उपकरण पर काम कर रही हैं जिसकी मदद से रेल हादसों में कमी लाई जा सकती है.
इसके साथ ही वो अपनी इस पैंटी को भी और सुरक्षित बनाने के लिए इसमें कई तरह के बदलाव करने की दिशा में काम कर रही हैं.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus