Home विशेष दुनियाभर में क्यों होती है ट्रेड वॉर ? जानिए अब के हालात...

दुनियाभर में क्यों होती है ट्रेड वॉर ? जानिए अब के हालात में भारत पर कितना पड़ेगा असर

SHARE
America China Trade War
demo pic

America China Trade War : फिलहाल अमेरिका और चीन के बीच शुरू हुई ट्रेड वॉर 

America China Trade War : दुनिया के दो शक्तिशाली देश अमेरिका और चीन के बीच छिड़े ट्रेड वॉर की घटना ने इस समय पूरे विश्व भर के व्यापार को स्तब्ध कर रखा है.

आज हम आपको इसी बहुचर्चित टॉपिक ट्रेड वॉर और इससे भारत पर क्या असर होगा के बारे में बताने वाले हैं.
इससे पहले कि हम आपको इस टॉपिक के बारे में कुछ भी बताएं आपका यह जानना बेहद ज़रूरी है कि ट्रेड वॉर क्या होता है ? 
पढ़ें – फिर याद आई जेएनयू में 9 फरवरी 2016 की वो शाम, जिसे लेकर विवाद है अब तक जारी

जानिए क्या है ट्रेड वॉर ? 

आसान शब्दों में कहें तो जब कोई भी दो शक्तिशाली देश अपने वर्चस्व को लेकर आमने-सामने आ जाते हैं तो उनके बीच कई प्रकार की जंग शुरू हो जाती है और उसी में का एक हिस्सा है ट्रेड वॉर .
हालांकि इस जंग का मतलब बॉर्डर पर होने वाली लड़ाई कतई नहीं है, यह जंग तो आर्थिक रुप से की जाती है यानी कि जब एक शक्तिशाली देश दूसरे देश से आने वाले सामानों पर किसी प्रकार का अवरोधक पैदा करें तो उसे कहते हैं ट्रेड वॉर  

 क्यों शुरू होती है ट्रेड वॉर ?  

इस बात को समझने के लिए आपको यह समझना जरूरी होगा कि दुनिया भर के सभी देश एक दूसरे से कुछ न कुछ सामान लेते और देते हैं.
जैसे उदाहरण के तौर पर भारत इंडोनेशिया से स्टील लेता है और बदले में भारत से कॉटन आदि सामान इंडोनेशिया जाता है.
अब मान लीजिये कि भारत में स्टील बनाने वाले व्यापारी ₹400 प्रति किलो के हिसाब से स्टील बेचते हैं. वहीं इंडोनेशिया से आने वाली स्टील भारत में  ₹350 प्रति किलो के हिसाब से बिक रही है.
तो जाहिर सी बात है भारतीय बाजार में मौजूद कस्टमर इंडोनेशिया की स्टील को खरीदेगा और इसका सीधा असर भारतीय व्यपारियों पर पड़ेगा.
ऐसे में भारत के व्यापारियों को काफी नुकसान होता है इस नुकसान को रोकने के लिए यह व्यापारी सरकार की मदद लेते हैं और सरकार मदद के रूप में इंडोनेसिया से आ रही स्टील पर किसी प्रकार से टैक्स को बढ़ा देती है जिसे टैरिफ भी कहा जाता है.
ऐसा करने से भारतीय अर्थव्यवस्था बच जायेगी लेकिन अगर दूसरी तरफ इंडोनेशिया ने भारत से आ रहे सामान पर भी टैरिफ बढ़ा दिया तो ये एक ट्रेड वॉर की शुरुआत हो जायेगी.

अमेरिका और चीन के बीच शुरू हुई ट्रेड वॉर 

इस समय दुनिया के दो सबसे शक्तिशाली देश चीन और अमेरिका के बीच ट्रेड वॉर जारी है. आपको बताते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से आने वाली स्टील पर टैरिफ बढ़ाते हुए ट्रेड वॉर की शुरुआत की थी जिसके जवाब में चीन ने भी अमेरिका से होने वाले आयात पर टैरिफ बढ़ा दिया है.
ट्रंप के इस कदम को उठाने के पीछे की वजह साल 2017 में हुआ घाटा बताया जा रहा है.
अमेरिका के मुताबिक उसे पिछले साल चीन समेत जर्मनी जापान और कोरिया से आने वाले सामान के कारण काफी घाटा हुआ है.
पढ़ें – पाक चुनाव में इस बार महिला उम्मीदवारों की दमदार भागीदारी, कानून बनाकर दिया गया अधिकार

 क्या भारत पर पड़ेगा इस ट्रेड वॉर का असर ? 

इससे पहले कि आप यह जाने भारत पर इसका क्या असर होगा आपका यह जानना जरूरी है कि डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से आने वाली स्टील पर 25% टैक्स लगाया है तो वहीं एलुमिनियम पर 10% टैरिफ बढ़ा दिया है.
उन्होंने यह जानकारी ट्वीट करते हुए दी थी कि जब देश सौ अरब डॉलर से डूब रहा हो तो ट्रेड वॉर एकदम सही है 
अब अगर ट्रेड वॉर से भारत पर पड़ने वाली असर की बात की जाए तो इस मामले के विशेषज्ञों के अनुसार भारत पर इसका सीधा असर नहीं पड़ेगा.
लेकिन ज्ञात हो अभी कुछ दिन पहले अमेरिका ने भारत को भेजे जाने वाले स्टील पर भी टैरिफ बढ़ा दिया था जिसके बाद भारत ने भी जवाब में अमेरिका भेजे जाने वाले बादाम अखरोट जैसी चीजों पर टैरिफ बढ़ाया था.
ऐसे में यदि यह बढ़ोत्तरी जारी रही तो ये कहना गलत नहीं होता ट्रेड वॉर की चपेट में भारत भी आ सकता है. 
खैर अब तो फिलहाल यह देखना होगा कि इन दो शक्तिशाली देशों के बीच चलने वाली ट्रेड वॉर कहाँ तक जाती है.