Home विशेष Sridevi’s Death : सिनेजगत की चांदनी जिसने सभी को खूब हंसाया, आज रूला...

Sridevi’s Death : सिनेजगत की चांदनी जिसने सभी को खूब हंसाया, आज रूला कर सबसे हुईं दूर

SHARE
Sridevi's Death
Courtsey - Erabus

Sridevi’s Death : चांदनी एक नाम जिसे सिनेमा में कोई न मिटा सकता है और न फिर बना सकता है…

Sridevi’s Death : अपनी बेहतरीन अदाओं से सबके दिलों में चांदनी बिखेरने वाली बॉलीवुड की बेहतरीन अदाकारा श्रीदेवी अब हमारे बीच नहीं रहीं.

दुबई अपने भतीजे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने गई श्रीदेवी की अचानक दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई. 54 साल की हवाहवाई का यूं अचानक सिनेजगत ही नहीं दुनिया छोड़ कर चले जाना हम सभी के लिए एक धक्का है.
श्रीदेवी का बेहतरीन सफर
श्रीदेवी ने 12 साल की उम्र से हिंदी सिनेमा में अपनी खूबसूरती और अदाकारी से सबके दिलों में अपने लिए जगह बना ली थी. 1975 में जूली फिल्म से बतौर अभिनेत्री अपने करियर की शुरूआत करने वली श्रीदेवी कम समय में ही उस जमाने की फेमस एक्ट्रेस में शुमार हो गईं थी.
इस फिल्म के बाद उनके अभिनय ने एक से बढ़कर एक फिल्में भारतीय सिनेमा को सौगात में दीं. 1989 में आई चांदनी फिल्म के बाद प्रशंसकों के दिलों में श्रीदेवी का अभिनय ही नहीं बल्कि उनका डांस, चुलबुलापन और अंदाज भी सबके सर चढ़कर बोलने लगा था.
नगीना, हिम्मतवाला, मि.इंडिया, लम्हे, चालबाज, मेरी बीबी का जबाव नहीं जैसी कई श्रीदेवी की सुपरडुपर फिल्में आज भी सिनेमा के टॉप फिल्मों में शामिल हैं. यहां नहीं श्रीदेवी की आखिरी फिल्म मॉम ने भी दर्शकों के दिल में गहरी छाप छोड़ी है.
केवल हिंदी सिनेमा में ही नहीं हवाहवाई नाम से पहचाने जाने वालीं श्रीदेवी साऊथ सिनेमा में महज 4 साल की उम्र से अपनी जगह बनाने में कामयाब रही थी.

Sridevi's Death

पारिवारिक जिंदगी
एक्ट्रेस श्रीदेवी 1996 में फिल्म प्रड्यूसर बोनी कपूर के साथ शादी के बंधन में बंध गईं थी, बोनी कपूर और श्रीदेवी की दो बेटियां जाह्नवी कपूर और खुशी कपूर हैं.
बता दें कि श्रीदेवी बोनी की दूसरी पत्नी थी, बोनी की पहली पत्नी मोना के बेटे फिल्म एक्टर अर्जुन कपूर और उनकी बहन अंशुला कपूर हैं.
बता दें कि श्रीदेवी के पति और फिल्म प्रड्यूसर बोनी कपूर बॉलिवुड के फेमस एक्टर अनिल कपूर और संजय कपूर के बड़े भाई भी हैं. इस तरह श्रीदेवी अनिल और संजय की भाभी और फैशन डीवा सोनम कपूर की चाची हैं.
फिल्म जगत का बेशकीमती नगीना श्रेदेवी का इस तरह सबको छोडकर चले जाना काफी शोकमय है. जाहिर है कि बॉलिवुड में उनका योगदान काफी अप्रतिम हैं.
चालबाज और लम्हे के लिए फिल्मफेयर अवार्ड और पद्मश्री लेने वाली इस अभिनेत्री के लिए यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि श्रीदेवी की जर्नी कामयाबी भरी रही है.
बेशक आज चांदनी हमारे बीच नहीं रहीं लेकिन भारतीय हिंदी सिनेमा और साउथ सिनेमा में श्रीदेवी का ये लंबा सफर कभी भी भुलाया नहीं जा सकता.