Home विशेष साउथ कोरिया के प्योंगचेंग शहर में हो रहे विंटर ओलंपिक्स की एक...

साउथ कोरिया के प्योंगचेंग शहर में हो रहे विंटर ओलंपिक्स की एक नहीं कई हैं खास बातें, जानिए

SHARE
Winter Olympics 2018

Winter Olympics 2018 : इस साल 90 देश के खिलाड़ी ले रहे भाग

Winter Olympics 2018 : दक्षिण कोरिया के प्योंगचेंग में इन दिनों 23 वें विंटर ओलिंपिक खेलों की धूम मची हुई है, 9 फरवरी से शुरू हुए इन खेलों का समापन 24 फरवरी को होगा.

2018 का यह ओलिंपिक कई तरह से खास है, उसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि 12 साल बाद नॉर्थ और साउथ कोरिया देशों के खिलाड़ी पुरानी दुश्मनी को भूलकर एक साथ विभिन्न खेलों में भाग ले रहे हैं.
आइए आपको बताते हैं विंटर ओलिंपक से जुड़े कुछ पुराने तथ्यों और ताजा अपडेट्स के बारे में..
सन् 1924 से हुई थी शुरूआत
पहला शीतकालीन ओलंपिक साल 1924 में फ्रांस के शौमॉनिक्स शहर में आयोजत किया गया था. उस समय यह 25 जनवरी से 5 फरवरी तक चला था और इसमें 16 देशों के कुल 258 खिलाड़ियों ने भाग लिया था.
वहीं 2014 में हुए पिछले शीतकालीन ओलंपिक को रूस के सोची शहर में आयोजित किया गया था. यह भी इस साल की तरह 9 से 25 फरवरी तक चला था और इसमें 88 देशों के कुल 2873 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था.
यह भी पढ़ें – जानिए क्या है मालदीव का पूरा विवाद , आखिर वहां के विपक्षी दल क्यों लगा रहे भारत से मदद की गुहार
सबसे छोटा और ठंडा शहर प्योंगचांग
साउथ कोरिया का प्योंगचांग शहर पहली बार शीतकालीन ओलंपिक खेलों की मेजबानी कर रहा है,यही नहीं नॉर्वे में 1994 में हुए इस खेल के बाद ऐसा करने वाला पहला सबसे छोटा शहर भी है.
बता दें कि पिछले 24 वर्षों में यह सबसे ठंड में खेला जा रहा विंटर ओलिंपिक है. प्योंगचेंग का तापमान औसतन तापमान माइनस 10-20 डिग्री के बीच है.
यहां रात में तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला जाता है और दोपहर के समय में भी तापमान में ज्यादा सुधार नहीं देखने को मिलता .
90 देश के खिलाड़ी ले रहे भाग
विंटर ओलंपिक 2018 में इस बार दुनिया के 90 देशों के खिलाड़ी भाग ले रहे हैं जिसमें 15 श्रेणियों में पहली बार 102 गोल्ड इवेंट होंगे, जिनका सीधा प्रसारण भारत में भी किया जा रहा.
विंटर ओलंपिक में स्कीइंग, स्केटिंग, स्की, जंपिंग और आइस हॉकी के खेलों में विभिन्न खिलाड़ियों के बीच मुकाबला होगा. जबकि इस साल आईओसी ने कार्यक्रम में कुछ अतिरिक्त खेल भी जोड़े हैं हैं, जिनमें एयर स्नोबोर्डिंग, फ़्रीस्टाइल स्कीइंग, स्पीड स्केटिंग और मिश्रित युगल कर्लिंग को शामिल किया गया है.
यह भी पढ़ें – Padman Movie Review : महिलाओं के पीरियड्स पर खुलकर बोलने के अलावा और भी बहुत कुछ सिखाती है पैडमेन
भारत की ओर से चुनौती
इस साल भारत की तरफ से विंटर ओलंपिक में मनाली के शिवा ल्यूज खेल में जबकि भारतीय सेना के जगदीश सिंह ने स्किंग में भारत का नेतृत्व किया थाबता दें कि .
इसके अलावा पिछली बार यानी साल 2014 में हुए शीतकालिन ओलंपिक में भारत के तीन एथलीटों ने भाग लिया था.
छठी और आखिरी बार विंटर (शीतकालीन) ओलिंपिक में भाग ले रहे भारत के शिवा केशवन का अभियान रविवार को प्योंगचांग में समाप्त हो गया है. पुरुष सिंगल्स ल्यूज स्पर्धा में शिवा केशवन 34वें स्थान पर रहे.
इसके साथ ही उन्होंने अपने दो दशक से अधिक लंबे अंतरराष्ट्रीय करियर को भी अलविदा कह दिया. उन्होंने जापान के नागानो में 1998 में हुए खेलों से पदार्पण किया था. वह इससे पहले वर्ष 1998, 2002, 2006, 2010 और 2014 ओलंपिक खेलों में भाग ले चुके थे.
5G का होगा आगाज
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्योंगचांग में खेले जा रहे विंटर ओलंपिक्स में साउथ कोरिया अपनी 5G यानी की 5th जनरेशन वायरलेस नेटवर्क की शुरूआत करने जा रहा है.
अगर ऐसा हुआ तो पूरी दुनिया में 5G को कमर्शियल के तौर पहली बार इस्तेमाल करने वाला देश बन जाएगा दक्षिण कोरिया.
बता दें कि 5G 100 गुना फास्ट 10 गीगाबाइट प्रति सेकंड की स्पीड के साथ एक पूरी हाई-डेफिनिशन मूवी को कुछ सेकंड्स में भेज सकता है.
इसके अलावा यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लेकर ड्रोन्स, सेल्फ-ड्राइविंग वाहन, रोबोट्स आदि के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण साबित होगी.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus