Home टेक न्यूज़ आधार कार्ड की जगह वर्चुअल आईडी का इस्तेमाल कर सुरक्षित करें अपनी...

आधार कार्ड की जगह वर्चुअल आईडी का इस्तेमाल कर सुरक्षित करें अपनी प्राइवेसी, जानें कैसे

SHARE
Aadhaar Virtual ID
demo pic

Aadhaar Virtual ID : 16 अंकों की यह वर्चुअल आईडी यूजर द्वारा कई बार जनरेट की जा सकती है.

Aadhaar Virtual ID : प्राइवसी यानि निजता संबंधी सभी चिंताओं को दूर करने के लिए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने वर्चुअल आईडी का बीटा वर्जन जारी कर दिया है.

अब हर जगह आधार से सत्यापन करने की जरुरत नहीं पड़ेगी आप 16 नंबर वाली की वर्चुअल आईडी की मदद से सत्यापन करा सकेंगे.
इसकी सेवाएं 1 जून, 2018 से 16 शुरु कर दी जाएंगी. यही नहीं इस वर्चुअल आईडी को आप खुद जनरेट कर पाएंगे. आइए जानते हैं इसके बारे में…
यह भी पढ़ें – Aadhar Card Misused : इन 5 स्टेप्स से पता करें कहीं आपके आधार कार्ड का तो नहीं हो रहा गलत इस्तेमाल
क्या है वर्चुअल आईडी
आधार वर्चुअल आईडी एक तरह का अस्थायी नंबर है, जिसे आधार का क्लोन कह सकते हैं.
इस आईडी में कुछ ही जानकारी होंगी. यदि आपको कहीं अपने आधार सत्यापन का डिटेल देनी है तो निजता को बनाए रखने के लिए आधार के स्थान पर वीआईडी नंबर दे सकते हैं.
कैसे ले सकते हैं वीआईडी
वीआईडी (वर्चुअल आईडी) यह एक डिजिटल आईडी है, जिसे यूआईडीएआई के पोर्टल से ही जनरेट किया जा सकता है.
यह एक दिन के लिए ही मान्य होता है, यानि अगर आपको वीआईडी की जरूरत जब भी पड़ेगी तो इसे जनरेट करना होगा और यह एक दिन के लिए वैलिड रहेगा.
वहीं अगर आपको नियमित तौर पर इसकी जरूरत है तो इसे रोजाना जनरेट करना पड़ेगा. इसका सीधा सा मतलब है कि आप वीआई़डी को कई बार जनरेट कर सकते हैं.
इसके लिए आपको कहीं और जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी वीआईडी को आप खुद जनरेट कर सकते हैं.
यह भी पढ़ें – नवजात शिशुओं के लिए भी आधार हुआ जरूरी , नीले रंग का जारी होगा ‘बाल आधार कार्ड’
कैसे कर सकते हैं वीआईडी जनरेट
इस आईडी को जनरेट करने के लिए यूआईडीएआई की वेबसाइट पर जाकर अपना आधार नंबर डालना पड़ेगा, जिसके बाद सिक्योरिटी कोड डालने पर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी मिल जाएगा.
इसके बाद ओटीपी डालते ही आपको नई वीआईडी जनरेट करने का विकल्प मिलेगा. जब यह जनरेट हो जाएगी तो आपके मोबाइल पर आपकी 16 अंकों की वर्चुअल आईडी भेज दी जाएगी.