Home टेक न्यूज़ Bomb Detector : उत्तराखंड के युवा वैज्ञानिक के बम डिटेक्टर ने आतंक...

Bomb Detector : उत्तराखंड के युवा वैज्ञानिक के बम डिटेक्टर ने आतंक ग्नासित नाइजीरिया को दी बड़ी राहत

SHARE
bomb detector
demo pic

 Bomb Detector : मोबाइल से भी किया जा सकता है ऑपरेट

Bomb Detector : उत्तराखंड का युवा वैज्ञानिक अभिलाष सेमवाल अपने नए अविष्कार से दुनिया में भारत का डंका बजा रहा है.

दरअसल अभिलाष ने देशी उन्नत तकनीक से ऐसा बॉम्ब डिटेक्टर बनाया है, जो आतंकवादियों के मंसूबों पर पानी फेरने का काम कर रहा है. इस बॉम्ब डिटेक्टर की खास बात यह  है कि इसे मोबाइल से भी आपरेट किया जा सकता है.
आपको बता दें कि अब इस डिवाइस की दुनियाभर के देशों से डिमांड भी आने लगी है, हर कोई अभिलाष से इस तकनीक को खरीदने के लिए उन्हें बड़े-बड़े ऑफर की पेशकश कर रहे हैं.

नाइजीरिया में अभिलाष के बम डिटेक्टर  का हो रहा उपयोग

अफ्रीकी देश नाइजीरिया कितना आतंक से ग्रसित देश है, यह तो आप जानते ही होंगे. लेकिन पिछले 4-5 महीनों से नाइजीरिया में आतंकी बन धमाकों में कमी देखने को मिली है. इस कमी का कारण जानकर आपको हैरानी और खुशी भी होगी.
यह भी पढ़ें – Haryana Mini Aircraft : हरियाणा के कुलदीप ने बाइक के इंजन से बना डाला मिनी एयरक्राफ्ट
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नाइजीरिया में अंतकियों से लड़ने के लिए उत्तराखंड के अभिलाष सेमवाल का बनाया हुया बम डिटेक्टर का ही प्रयोग किया जा रहा है.
नाइजीरिया खुफिया एजेंसी ने इस बम डिटेक्टर के माध्यम से पिछले 4-5 महीने में 12-15 बम घटनाएं रोकी हैं, कुछ समय से नाइजीरिया में आतंकी घटनाओ में तेजी से कमी देखने को मिली है.
वहीं इस डिटेक्टर के अच्छे परिणाम आने के बाद वहां की सरकार ने अभिलाष सेमवाल के इस अविष्कार की खूब सराहना की.
ऐसे काम करता है बम डिटेक्टर
अभिलाष सेमवाल ने बताया कि इस बम डिटेक्टर को जमीन में फिट करने पर यह 1 किलोमीटर दायरे में रखे बम की दुर्गंध को पहचान लेता है.
यह भी पढ़ें – Inclov Mobile App : दिव्यांगों के लिए बने इस खास डेटिंग ऐप से जीवनसाथी तलाशने में मिल रही मदद
अभिलाष ने बताया कि जिंदा बम से हीलियम, अमोनियम नाइट्रेट, पोटेशियम नाइट्रेट जैसी गैसें निकलती रहती हैं जिन्हें यह मैग्नेटिक सेंसर आसानी से पहचान लेता है. और तुरंत सेंसर के जरिए आपरेटर को एसएमएस के माध्यम से सूचित कर देता है कि बॉम्ब किस जगह पर रखा गया है.
bomb detector
अभिलाष
हर अविष्कार देश को सौंपूंगा
देहरादून की ग्राफिक्स एरा यूनिवर्सिटी में एमटेक प्रथम वर्ष के छात्र अभिलाष ने कहा कि उन्हें बम डिटेक्टर डिवाइस के लिए हांगकांग की कंपनी से भी ऑफर आ चुका है. लेकिन उन्होंने इस ऑफर को ठुकरा दिया.
उन्होंने इसके पीछे का कारण बताया कि कंपनी अमेरिका सेना के लिए डिवाइस बनाना चाहती थी जो उन्हें पसंद नहीं.

अभिलाष बताते हैं कि वह हर अविष्कार देश के लिए करना ताहते हैं कि ताकि उसका लाभ देश को मिल सके हैं.

 For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus