अब भारतीय रेलवे का ‘उस्ताद’ करेगा ट्रेनों की देखभाल

Railway USTAD Robot

Railway USTAD Robot : ये कोच के नीचे के हर पार्ट का रियल टाइम वीडियो भी भेज सकता है.

Railway USTAD Robot : तकनीक की इस दुनिया में हर मुश्किल से मुश्किल काम भी आसान होता दिख रहा है, भले ही उसे कोई इंसान करे या फिर रोबोट

बीते कई वर्षों में देखा गया है कि कंपनियां अपने काम का सटीक परिणाम पाने के लिए इंसानों से ज्यादा रोबोट पर निर्भर होने की दिशा में काम कर रही है.
अगर इस पर गंभीरता से सोचें तो इसमें में कुछ गलत भी नहीं है ,रोबोट हर उस काम को आसानी से और बिल्कुल सही ढंग से करने में सक्षम है जिसमें मानवीय भूल की आशंका बनी रहती है.
हमारी भारतीय रेलवे ने भी अब इसी फार्मुले पर चलने के लिए तैयारी कर ली है,सेंट्रल रेलवे जोन ने ऐसा अनोखा रोबोट तैयार किया है जो रेल कोचों के नीचे के सभी पार्टों की मरम्मत कर सकता है.
पढ़ेंदेश में बना कॉल ड्राप घटाने व 5G सुविधा देने वाला पहला चिपसेट
बता दें की इस रोबोट में कैमरे लगे हुए हैं और ये कोच के नीचे के हर पार्ट का रियल टाइम वीडियो भी भेज सकता है.
जानकारों की माने तो इससे गलतियां होने की गुंजाईश कम होगी और आए दिन हो रहे रेलवे हादसों में भी कमी आएगी
Railway USTAD Robot
जानकारी के लिए बता दें कि इस रोबोट को अंडर गियर सर्विलेंसस थ्रू आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस असिस्टेड ड्रॉइड या USTAD नाम दिया गया है.
दरअसल रोबोट के कारण न सिर्फ कर्मचारियों के लिए काम आसान हो जाएगा, बल्कि किसी पार्ट में आई तकनीकी खराबी को भी आसानी से देखा जा सकेगा और उसे समय रहते दुरस्त किया जा सकेगा.
यह रोबोट एलईडी फ्लड लाइट से लैस है जो अंधेरे और कम रोशनी में भी फोटो लेने में सक्षम है.
पढ़ें – नासा के 2019 कैलेंडर पर छाए भारतीय बच्चे, पेंटिंग बनाकर दिया स्पेस में रहने-खाने का आइडिया
फिलहाल रेल कर्मचारी पटरी पर लेटकर कोच के निचले हिस्सों में लगे पार्ट्स की जांच करते हैं, जिससे कई बार गलती की गुंजाइश भी रहती है लेकिन रोबोट से न सिर्फ जांच आसान होगी, बल्कि गलती की आशंका भी नहीं होगी.
सबसे अहम बात कि इस पूरी प्रक्रिया पर रेलवे के बड़े बड़े इंजीनियरों भी वीडियो के जरिए अपनी नजर रख सकेंगे.