Home विदेश Islamic Alliance : आतंकवाद को खत्म करने के लिए साथ है दुनिया...

Islamic Alliance : आतंकवाद को खत्म करने के लिए साथ है दुनिया के 41 मुस्लिम देश

SHARE
islamic alliance
फोटो साभार - ड्यूच्च वेले

Islamic Alliance : सउदी अरब के रियाद में हुई बैठक

Islamic Alliance : मुस्लिम देशों में बढ़ते आतंकवाद को खत्म करने के लिए दुनिया के 41 देशों ने एक साथ आने का फैसला किया है.

सउदी अरब के रियाद में हुई ‘पैन-इस्लामिक यूनिफाइड फ्रंट’ की बैठक में शामिल सभी देशों के रक्षा प्रतिनिधियों ने एक साथ आतंकवाद के सफाए के लिए अपनी सहमति दी है.
इस बैठक में सउदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कहा कि उनका देश आतंकवाद के खिलाफ उसके पूरी तरह से खात्मे तक जंग जारी रखेगा.
उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि बीते कुछ सालों में आतंकवाद हम सभी देशों के भीतर पैर पसार चुका है. जिसकी मुख्य वजह हम सबके बीच आपस में समन्वय का ना होना है.
आपको बता दें कि क्राउन प्रिंस सलमान जो सउदी अरब के मौजूदा रक्षा मंत्री भी है, और इस गठबंधन की नीव 2015 में सबसे पहले उन्होंने ही रखी थी.
गौरतलब है कि इस नये इस्लामिक गठबंधन का ऐलान ऐसे समय में हुआ है जब कई देशों की फोर्सें आतंकवादी गुट इस्लामिक स्टेट को सीरिया और इराक से खत्म करने के लिए साझा सैन्य अभियान चला रही हैं.
यह भी पढ़ें Women Rights In Islamic Countries : इस्लामिक देश भी समझने लगे महिला अधिकारों की बात
गठबंधन में ज्यादातर सुन्नी देश हुए शामिल
इस नए गठबंधन में ज्यादातर सुन्नी देश या फिर सुन्नी शासन वाले देश ही शामिल हुए हैं. जिसका साफ मतलब है कि इसमें सउदी अरब का कड़ा प्रतिद्वंद्वी ईरान शामिल नहीं है और न ही सीरिया और इराक, जिनके नेताओं से ईरान से करीबी संबंध हैं.
हालांकि यह जगजाहिर है कि सऊदी अरब और ईरान के संबंधों में बरसों से कड़वाहट रही है.
ये देश हुए शामिल
इस गठबंधन में मिस्र, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश, युगांडा, सोमालिया, मॉरिटानिया, लेबनान, लीबिया, यमन और तुर्की जैसे देश शामिल हैं. वहीं इस गठबंधन का कमांडर इन चीफ पाकिस्तान के पूर्व सेना प्रमुख राहील शरीफ को बनाया गया है.