मोदी सरकार का घर खरीददारों को बड़ा तोहफा, जान लीजिए आप भी

GST Rate Cut In Housing Sector

GST Rate Cut In Housing Sector : निर्माणाधीन और किफायती घरों पर घटी जीएसटी

GST Rate Cut In Housing Sector : लोकसभा से पहले मध्यम वर्ग को लुभाने के लिए मोदी सरकार ने एक और दांव चल दिया है.

इस बार केंद्र सरकार ने घर खरीदारों को गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) के जरिये बड़ा तोहफा दिया है.
दरअसल आज रविवार को हुई जीएसटी काउंसिल की बैठक में ये निर्णय लिया गया की अब से निर्माणाधीन (अंडर कंस्ट्रक्शन) परियोजनाओं में मकानों पर जीएसटी की दर 5 फीसदी की जाएगी.
बता दें की पहले सरकार इस पर 12% जीएसटी वसूलती थी जिसे अब घटाकर 5 फीसदी कर दिया गया है.
पढ़ें – अवैध रूप से पैसा जमा करने वाले निकायों के खिलाफ मोदी सरकार का अध्यादेश, जानें क्या है ये
यही नहीं किफायती घरों में भी जीएसटी के जरिए आम आदमी को राहत देने की कोशिश की गई है.
पहले जहां इस पर 8 फीसदी टैक्स लगता था अब ये घटाकर महज 1 प्रतिशत कर दिया गया है.
वित्त मंत्री अरूण जेटली ने जीएसटी परिषद की बैठक के बाद लिए गए इन फैसलों के बारे में मीडिया के माध्यम से देश को जानकारी दी.
क्या और किसे होगा फायदा
बकौल काउंसिल महानगरों में 45 लाख रुपये तक की लागत वाले और 60 वर्ग मीटर क्षेत्रफल के मकानों को इस श्रेणी में रखा जाएगा.
इसी तरह छोटे-मझोले शहरों में 90 वर्ग मीटर तक के मकानों को इस श्रेणी का माना जाएगा.
बता दें की इन आवासीय परियोजनाओं के लिए जीएसटी की ये दरें 1 अप्रैल 2019 से पूरे भारत में लागू हो जाएंगी.
पढ़ें – गृहमंत्री ने पूरे देश के लिए एकल आपातकालीन नंबर ‘112’ किया लांच
लॉटरी पर जीएसटी फिलहाल टला
वित्त मंत्री ने बताया की लॉटरी पर जीएसटी के बारे में फैसला फिलहाल आगे के लिए टाल दिया गया है.
गौरतलब है की इस समय राज्य सरकारों द्वारा संचालित लॉटरी योजनाओं पर 12 फीसदी और राज्य सरकारों द्वारा अधिकृत लॉटरी पर 28 फीसदी की दर से जीएसटी लगता है.
जेटली जी ने कहा की जीएसटी दर में कमी का फैसला निश्चित रूप से घर निर्माण क्षेत्र को बल प्रदान करेगा.
ज्ञात हो पिछले कुछ सालों में जमीन और घरों के दाम आसमान छूने लगे है ऐसे में सरकार की तरफ से टैक्स कम करने की पहल से उम्मीद है की इसे आम आदमी को बड़ी राहत मिलेगी.