गुजरात के स्कूलों में अब से छात्र ‘जय हिंद’ या ‘जय भारत’ कहकर देंगे अपनी हाजिरी

Gujarat School Children Attendance
फोटो साभार-एचटी

Gujarat School Children Attendance : राज्य के सभी स्कूलों को ये फरमान जारी कर दिया गया है.

Gujarat School Children Attendance : देशप्रेम अच्छी बात है,लेकिन जब यही किसी की देशभक्ति का परिचय बन जाए तो ये थोड़ा अटपटा सा लग सकता है.

हो सकता हमारी उपर कही गए बातों का कुछ लोग समर्थन ना करें लेकिन आज जब देश में विभाजन शक्तियों का अस्तित्व तेजी से बढ़ रहा है तो इसके बारे में सोचा जाना चाहिए.
दरअसल गुजरात सरकार ने राज्य के सभी स्कूलों को ये फरमान जारी कर आज से उनके हाजिरी(Attendance) का तरीका बदल दिया है.

पढ़ें – मोदी सरकार का न्यू ईयर गिफ्ट, LPG सिलेंडरों के घटाए दाम

पहले जहां बच्चे अपने स्कूलों में खुद की हाजिरी बताने के लिए Yes सर या Present सर कहते थे अब आज से यानी की 1 जनवरी 2019 से वो इसके बदले ‘जय हिंद’ या ‘जय भारत’ कहेंगे.
इस बारे में बीते सोमवार को सरकार की तरफ से स्पष्ट रूप से अधिसूचना जारी कर कहा गया है की छात्रों में देशभक्ति जगाने के लिए ये नियम तत्काल प्रभाव से लागू होने चाहिए.
प्राथमिक शिक्षा निदेशालय और गुजरात माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (जीएसएचएसईबी) द्वारा जारी अधिसूचना में कहा गया है कि सरकारी, अनुदान प्राप्त और स्व-वित्तपोषित स्कूलों में कक्षा 1 से 12 के छात्रों को एक जनवरी से अटेंडेंस के वक्त ‘जय हिंद’ या ‘जय भारत’ कहना होगा.
अधिसूचना में इसका उद्देश्य बचपन से ही छात्रों के बीच देशभक्ति को बढ़ावा देना बताया गया है.
पढ़ें – रोजाना 1450 करोड़ तो सिर्फ ब्याज चुका रही है केंद्र सरकार ,जानें पूरा बहीखाता
बता दें की साल 2018 के दौरान गुजरात शिक्षा विभाग की ओर से किए गए कार्यों की समीक्षा बैठक में हुई चर्चा के बाद शिक्षामंत्री भूपेन्द्र सिंह चुड़ास्मा ने इस विषय में निर्देश जारी किया है.
अपने इस फैसले पर चूड़ास्मा ने कहा की इतनी अच्छी पहल से प्रेरणा लेने में कुछ बुरा नहीं है.
दशकों पहले गुजरात में इसका अनुसरण किया गया था लेकिन कहीं न कहीं इसे भुला दिया गया था.