भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने राष्ट्रीय खेल प्रतिभा खोज पोर्टल लांच किया

वेंकैया नायडू | venkaiah
फोटो साभार- पीआईबी
भारत के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने देश के कोने-कोने से खेल प्रतिभा को खोज निकालने के लिए शुक्रवार को राष्ट्रीय खेल प्रतिभा खोज पोर्टल लांच किया.
इस तरह की खेल से जुड़ी प्रतिभाओं को खोजने की किसी सरकार की यह पहली पहल है.
इस पोर्टल की शुरूआत के बाद से अब देश में कोई भी बच्चा या उसके माता पिता, शिक्षक या कोच उसका खेल से जुड़ा बायोडाटा या वीडियो पोर्टल पर अपलोड कर सार्वजनिक कर सकते हैं.
इस पोर्टल पर खेल मंत्रालय की भी नजर रहेगी, जिससे वो प्रतिभावान खिलाड़ियों को चुनेगा और उन्हें भारतीय खेल प्राधिकरण के केंद्रों में ट्रेनिंग देगा.
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल अपने ‘मन की बात’ रेडियो कार्यक्रम में पोर्टल के लांच का जिक्र किया था
इस पोर्टल को लांच करने के मौके पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि बुनियादी ढांचा और ट्रेनिंग सुविधाएं तथा खेल एकेडमियों की स्थापना भारत को एक मजबूत खेल राष्ट्र के रूप में बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी.
उन्होंने कहा की हमें सभी राज्यों में खेलों के लिए अच्छे बुनियादी ढांचा तैयार करने की जरूरत है. श्री नायडू ने कहा कि इसके साथ ही साथ कम उम्र से ही बच्चों की खेल प्रतिभाओं को निखारना होगा.
वेंकैया नायडू ने कहा कि हमें देश के प्रत्येक हिस्सों में अधिक एकेडमी ट्रेनिंग और कोचिंग केंद्रों की जरूरत है. जिससे हमारे युवा पुरुष और महिलाएं अपने खेल प्नतिभा से आने वाली पीढ़ी के लिए प्रेरणा बनें.
नायडू ने बताया कि हमें एक टीम के खेल के रूप में क्रिकेट और हॉकी के अलावा अधिकांश सफलता व्यक्तिगत प्रयास करने वाले लोगों से मिली है. सानिया मिर्जा, पीवी सिंधू, साइना नेहवाल, पीटी ऊषा, मिल्खा सिंह या अभिनव बिंद्रा, इन सभी ने स्वयं सफलता हासिल की और राष्ट्र को इन पर गर्व है.
पोर्टल के बारे में वेंकैया नायडू ने कहा कि राष्ट्रीय खेल प्रतिभा खोज पोर्टल का मंच बदलाव लाने वाला होगा. जो की खेल मंत्रालय तथा भारतीय खेल प्राधिकरण को सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को चुनने में मदद करेगा.
भाषा के इनपुट से