सोशल साइट्स पर अधिक समय बिताने का लड़कियों पर पड़ता है बुरा प्रभाव – शोध

demo pic

Social Media Harms Girl : लड़कों की तुलना में लड़कियों की खुशियां हो रहीं प्रभावित

Social Media Harms Girl : आजकल हम युवाओं में सोशल मीडिया पर समय बिताना एक आम बात हो गई है, मगर क्या हम इससे खुद पर होने वाले दुष्प्रभावों से वाकिफ है .

शायद नहीं क्योंकि आज हमारे जीवन में सोशल मीडिया का इस्तेमाल इस कदर बढ़ गया जिससे छूटकारा पाना अब इतना आसान नहीं, और यही वजह है कि अब ये हमारे शरीर के लिए बेहद खतरनाक रुप लेता जा रहा है.
हाल में किए एक अध्ययन में पता चला है कि सोशल मीडिया का बुरा प्रभाव लड़कों से ज्यादा लड़कियों पर पड़ रहा है.
एसेक्स और यूसीएल विश्वविद्यालय द्वारा की गई इस शोध में सामने आया है कि लड़कियों का 10-15 साल की उम्र में यानि किशोरावस्था में सोशल मीडिया पर खर्च किए गया समय उनकी बढ़ती उम्र के स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव ड़ालता है.
इस शोध पर अपना सुझाव देते हुए लेखक कैरा बुकर कहते हैं कि इस शोध के अनुसार विशेष रूप से किशोरियों की सोशल मीडिया गतिविधियों पर शुरुआती तौर पर ही निगरानी रखना जरुरी है, क्योंकि ऐसा करना उन्हें बढ़ती उम्र यानि वयस्कता पर डिप्रेशन में जाने से बचा सकता है.
यह भी पढ़ें – Women Fitness Report : एक्सरसाइस के दौरान पुरूषों की तुलना में महिलाएं रहती हैं ज्यादा एक्टिव – रिसर्च
इस अध्ययन में 15 साल तक की उम्र वाले सभी किशोरों को सोशल मीडिया पर 1 घंटे से अधिक बातचीत करते देखा गया जिसमें लड़कों की तुलना में लड़कियां सोशल मीडिया का अधिक इस्तेमाल करती दिखीं.
वहीं आंकड़े देखें तो 59% लड़कियां और 46% लड़के हर रोज एक से अधिक घंटे के लिए सोशल साइट्स पर समय बिताते हैं.
इसका परिणाम किशोरावस्था वाले लड़कों और लड़कियां दोनों की आंतरिक खुशी में गिरावट देखी जा रही है.
इस अध्यन में किशोरावस्था की खुशी में लड़कियों में 36.9 से 33.3 और लड़कियों के 36.02 से 34.55 अंकों में लगभग तीन अंक की गिरावट दर्ज की गई. जबकि एसडीक्यू की रिपोर्ट में लड़कियों के बजाय लड़कों की खुशी के मानक में गिरावट थी.
यह कहना गलत नहीं होगा कि सोशल मीडिया का अत्यधिक उपयोग हमारे युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहा है.