दिल की बीमारी को हमेशा के लिए दूर रखती है ये एक एक्सरसाइज, आज ही से करना शुरू कर दें  

Weightlifting Exercise Helpful For Heart
demo pic

Weightlifting Exercise Helpful For Heart : शोध में आया सामने वेटलिफटिंग से दिल की बिमारियों का खतरा होता है कम

Weightlifting Exercise Helpful For Heart : आज के समय में स्वस्थ जीवन जीना पहाड़ चढ़ने जितना मुश्किल हो गया है,दवाइयों और डॉक्टरों से तो मानो एक अलग ही रिश्ता कायम हो चुका है.

हमारा खान-पान, रहन-सहन, प्रदुषण, ये सब मिलकर हमें आज इस कदर बीमार कर रहे हैं कि हम अपने चारों तरफ वो एक तरीका ढूंढ़ने लगे हैं जिससे हम और हमारा परिवार स्वस्थ रह सके.
ऐसे में हम आज आपको एक ऐसी एक्सरसाइज(Exercise) के बारे में बताएंगे जिसे करने से आप खुद को दिल से जुड़ी समस्या से दूर रख सकते हैं.
पढ़ें – जानें हृदय के लिए क्यों जरूरी है ECG जांच, कब और कैसे करवाएं यह टेस्ट
दरअसल आजकल दिल की बीमारी हम इंसानों के अंदर आम होती जा रही है और इससे जुड़ी एक सबसे बड़ी अवधारणा हम सबके मन में ये है कि अगर आप शारीरिक रूप से सक्रिय रहते हैं तो आपको ये बिमारी नहीं हो सकती
लेकिन ऐसा कहना पूरी तरह से सही नहीं है. हाल ही में हुए एक शोध में ये भी नतीजे सामने निकल कर आये हैं कि दिल को बीमारियों से दूर रखने में टहलने और साइकिल चलाने से ज्यादा फायदा वेटलिफ्टिंग से होता है.
Weightlifting Exercise Helpful For Heart
demo pic
लोग अक्सर कहते हैं कि दिल को स्वस्थ रखना है तो घूमो-टहलो, या साइकिल चलाओ लेकिन शोध के नतीजे बताते हैं कि जो लोग वेटलिफ्टिंग करते हैं उन्हें दिल की बीमारियों का कम सामना करना पड़ता है
हालांकी अध्ययन में यह भी सामने आया है कि दोनों तरह की एक्सरसाइजों यानि की साइकिल,टहलने के अलावा वेटलिफटिंग को भी  एक साथ करने से व्यक्ति के अंदर दिल की बिमारी का खतरा 30 से 70 फीसदी तक कम हो जाता है.
पढ़ें – भारत में तेजी से बढ़ रहे हैं हृदय रोग के मरीज, कैंसर और मधुमेह भी बना घातक
ग्रेनाडा में सैंट जॉर्ज यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर माइया पी. स्मिथ ने इस बारे में कहा है कि बेशक टहलने और साइकिल चलाने जैसे शक्ति प्रशिक्षण और एरोबिक गतिविधियां इंसान के दिल को स्वस्थ लाभ अवश्य देती हैं.
लेकिन स्थिर व्यायाम, वेटलिफ्टिंग गतिशील व्यायाम से कई ज्यादा फायदेमंद होता है और ये बात शोध में सिद्ध हुई है.
बता दें कि इस शोध के परिणाम लैटिन अमेरिका कॉन्फ्रेंस 2018 में पेश किए गए हैं. इसके लिए शोधकर्ताओं ने शोध में 21 से 44 या 45 तक की आयु के 4,086 वयस्कों को शामिल किया.

यहां आपको बताना चाहेंगे कि ये खबर विदेश में किए गए अध्ययन पर आधारित हैं अथवा आपसे निवेदन है कि इस तरह की किसी भी एक्सरसाइज को शुरू करने के लिए आप अपने डॉक्टर से बात कर लें .