बिहार की इंजीनियर बेटी को गूगल में 1 करोड़ के पैकेज पर मिली नौकरी

Bihar Google Girl Madhumita
फोटो साभार - फेसबुक

Bihar Google Girl Madhumita : लंबी तैयारी के बाद मिली नौकरी 

Bihar Google Girl Madhumita : इस वक्त हमारे देश के जो हालात है उसमें हर रोज लडकियों के साथ होने वाले अपराध की खबरें ही अखबारों की सुर्खियों में रहती हैं.

महिलाओं के प्रति बढ़ती इन घटनाओं से कहीं ना कहीं हमारे समाज का एक वर्ग उन्हें कमजोर और कम आंकने लगा है. मगर शायद उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि हमारे देश की लड़कियां आज भी खुद के पांव पर खड़े होकर पूरी दुनिया को यह दिखाने में सक्षम है कि वो जो चाहे वो कर सकती हैं.
ऐसी ही एक मिसाल बनकर सामने आई है बिहार की मधुमिता, बता दें कि मधुमिता को दुनिया की सबसे नामचीन कंपनी गूगल ने काम करने के लिए बुलाया है.
इसके लिए गूगल मधुमिता को सालाना 1 करोड़ का पैकेज ऑफर किया है. गूगल ने अपने स्विट्जरलैंड स्थित हेड ऑफिस में उन्हें टेक्निकल सॉल्यूशन इंजीनियर के पद पर नियुक्त किया है.
लंबी तैयारी के बाद दिया इंटरव्यू
आपको बता दें कि मधुमिता ने इस जॉब के लिए इंटरव्यू के सात राउंड को पास किया है.
इस इंटरव्यूह की खास बात यह थी कि इसका आयोजन ढाई महीने तक अलग-अलग देशों में किया गया था और इसे पास करने के लिए मधुमिता ने 6 से 7 महीने की कठिन तैयारी करी थी.
यह भी पढ़ें – पीएम मोदी के ‘स्वच्छ भारत समर इंटर्नशिप’ के तहत छात्र जीत सकते हैं 2 लाख का ईनाम, ऐसे करें आवेदन
पिता नहीं चाहते थे बेटी करे इंजीनियरिंग
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गूगल में नौकरी शुरू करने से पहले मधुमिता बेंगलुरु में एपीजी कंपनी में काम कर रही थीं. हालांकि गूगल से पहले भी उन्हें अमेज़ॉन, माइक्रोसॉफ़्ट और मर्सिडीज़ जैसे कंपनियों से ऑफ़र मिल चुके थे.
आपको जानकर हैरानी होगी कि आज जिस वजह से मधुमिता ने परिवार को गर्व करने का मौका दिया एक वक्त ऐसा था जब उनके पिता उन्हें यह कदम उठाना ही देना नहीं चाहते थे.
जी हां, मधुमिता के पिता सुरेंद्र शर्मा नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी इंजीनियरिंग करे, क्योंकी उन्हें शुरुआत में लगता था कि इंजीनियरिंग का फील्ड लड़कियों के लिए नहीं है.
लेकिन फिर उन्होंने देखा कि लड़कियां भी बड़ी संख्या में इस फील्ड में आ रही हैं इसके बाद उन्होंने मधुमिता को इंजीनियरिंग करने की अनुमति दे दी.
मधुमिता शर्मा बिहार के एक छोटे से कस्बे सोनभद्र की रहने वाली है उनके पिता सुरेंद्र शर्मा आरपीएफ में सहायक कमांडेंट और मां चिंता देवी एक गृहणी है, मधुमिता तीन भाई-बहनों में मंझली बेटी हैं
बता दें कि मधुमिता पटना के डीएवी, वाल्मी स्कूल से बाहरवीं की पढ़ाई करने के बाद जयपुर के आर्या कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉलॉजी से कंप्यूटर साइंस में B.Tech की पढ़ाई की है.
यह भी पढ़ें – Good Earning Crash Course : इन 6 शॉर्ट टर्म क्रैश कोर्स से बनाएं मोटी कमाई वाला करियर
IAS बनने का भी था सपना
गौरतलब है कि स्कूल के समय में खुद मधुमिता का सपना कुछ और था वह डिबेट कंपीटीशंस में भी वह बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेती थीं. यही नहीं 12th पास करने के बाद मधुमिता आईएएस बनना चाहती थीं मगर फिर बाद में उन्होंने इंजीनियरिंग को अपना करियर बनाया.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus