देश में सात महीनों के अंदर हुआ 39.36 लाख नए रोजगार का सृजन – EPFO

DSSSB Various Post Vacancy 2018

EPFO Job Creation Data : आधी से ज्यादा नौकरियां महाराष्ट्र, तमिलनाडु और गुजरात राज्य में पैदा हुई

EPFO Job Creation Data :  देश में बढ़ती बेरोजगारी की खबरों के बीच कर्मचारी भविष्य निधि संगठन द्वारा जारी किए गए रोजगार के आकड़ों ने मोदी सरकार को बड़ी राहत देने का काम किया है.

दरअसल कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के रोजगार आकड़ों के मुताबिक मार्च तक समाप्त सात महीनों में देश में 39.36 लाख नए रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ है.
बता दें कि सबसे ज्यादा नौकरियों का सृजन इलेक्ट्रिक, मेकेनिकल या सामान्य इंजीनियरिंग के उत्पादन क्षेत्र में हुई हैं.
इसके बाद भवन निर्माण,  ट्रेडिंग ,वाणिज्यिक प्रतिष्ठान और कपड़ा उद्योग के क्षेत्रों में रोजगार वृद्धि हुई है.
वहीं जानकारी के लिए बता दें कि इनमें से आधी से ज्यादा नौकरियां महाराष्ट्र, तमिलनाडु और गुजरात राज्य में पैदा हुई हैं.
यह भी पढ़ें – Indian Skill Report 2018 : देश में नई प्रतिभा के रोजगार में हुई 45.60 फीसदी की बढ़ोत्तरी
ईपीएफओ ने इन आकड़ों को अपलोड करते हुए जानकारी दी कि हालिया महीनों के आकड़ें अस्थाई हैं. यह आयु वर्ग के हिसाब से सभी गैर शून्य योगदानकर्ताओं की संख्या के आधार पर तैयार किया गया है, जो संबंधित महीने में ईपीएफओ के तहत पंजीकृत हुए हैं.
ईपीएफओ ने स्पष्ट करते हुए बता दिया कि इन अनुमानों में वो अस्थायी कर्मचारी भी शामिल हो सकते हैं जो संभवत: पूरे वर्ष के लिए योगदान नहीं देंगे.
वहीं कुछ जानकारों ने भी इन आकड़ों पर संदेह जताया है उनका कहना है कि इन आंकड़ों से रोजगार सृजन की सही तस्वीर का पता नहीं चलता है क्योंकि इसमें कर्मचारियों द्वारा नौकरियों में बदलाव को भी शामिल किया गया है.
बता दें कि इसी साल बीते फरवरी महीने में 5.89 लाख नए रोजगार के अवसर पैदा हुए थे जबकि मार्च में ये संख्या बढ़कर 6.13 लाख हो गई थी.

For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus