Kailash Satyarthi Bharat Yatra: कश्मीरी बच्चों के सफल जीवन के लिए संघर्ष करेंगे कैलाश सत्यार्थी

kailash satyarthi bharat yatra

Kailash Satyarthi Bharat Yatra: बच्चों का जीवन बर्बाद नहीं होने देंगे

Kailash Satyarthi Bharat Yatra:नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने कहा है कि वह कश्मीर के बच्चों को बाल मजदूरी से बचाने के लिए शांतिपूर्ण तरीके से संघर्ष करेंगे.

भारत यात्रा पर निकले कैलाश सत्यार्थी ने अपने कश्मीर के पड़ाव में वहां के बच्चों से मिलकर उन्हें ये अश्वस्त किया कि वह उनकी सुरक्षा के लिए हर संभव प्रयास करेंगे.
उन्होंने जम्मू-कश्मीर के बच्चों से हिंसा से अलग रहने की अपील करते हुए कहा कि हमें एक साथ आतंकवाद के खिलाफ इस युद्ध को जीतना होगा.
इसके साथ ही सक्रिय अलगाववादियों और आतंकवादियों का नाम लिए बगैर ही सत्यार्थी ने उनसे कहा कि वह अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए बच्चों का इस्तेमाल न करें.

I am touched by the smile, innocence and dreams of my Kashmiri daughters and sons. They must be protected at any cost. #MakeIndiaSafe pic.twitter.com/eJu3Nor3Nt

आपको बता दें कि बच्चों के खिलाफ हो रहे अपराध के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए कैलाश सत्यार्थी भारत यात्रा पर निकले हैं.
पिछले सप्ताह उन्होंने उत्तर प्रदेश में कई कार्यक्रम आयोजित किए थे. उन्होंने अपनी इस यात्रा की शुरूआत कन्याकुमारी से की थी. और यात्रा का अंतिम पड़ाव 16 अक्टूबर को दिल्ली में जाकर संपन्न होगा.
कश्मीर घाटी में विभिन्न स्कूल से आए छात्रों को संबोधित करते हुए सत्यार्थी ने कहा कि मैं श्रीनगर और दिल्ली में सरकारों के दरवाजे खटखटाऊंगा. और उनसे कहूंगा कि वह बच्चों को पढ़ने दें और उनको जितना ऊंचा हो सके उड़ान भरने दें.
इसके अलावा उन्होंने वहां मौजूद सभी बच्चों को यह भरोसा दिलाया कि वो उनकी परेशानियों के लिए सरकार से अपील करेंगे, प्रार्थना करेंगे और जरूरत पड़ी तो उनके लिए संघर्ष भी करेंगे.
गौरतलब बै कि अपनी इस यात्रा में श्री सत्यार्थी छोटे बच्चों के मौलिक अधिकारों की रक्षा व बाल श्रम, यौन शोषण जैसे गंभीर अपराधों के प्रति लोगों को जागरूक कर रहे हैं.
इसके साथ ही साथ वो प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से भी वार्ता कर बच्चों के कल्याण के लिए नया खाका तैयार कर रहे है.
वहीं बच्चों की चिकित्सा स्वास्थ्य और क्षतिपूर्ति सहित अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया को मजबूत करना भी इस यात्रा का प्रमुख लक्ष्य है.

भाषा के इनपुट से

For More Breaking News In Hindi and Positive News India Follow Us On Facebook, Twitter, Instagram, and Google Plus