तमिलनाडु के इस सरकारी स्कूल को मिलेगा स्वच्छता का राष्ट्रीय पुरस्कार

सुनामी प्रभावित तमिलनाडु के नागापटिनम जिले के एक सरकारी स्कूल को स्वच्छता एवं साफ-सफाई के मामले में इस साल का राष्ट्रीय पुरस्कार दिया जाएगा.

जिले के कीचनकुप्पम गांव के इस स्कूल को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा स्वच्छता के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने के लिए चुना गया है.
गांव के पंचायत संघ मध्य विद्यालय के प्रतिनिधियों को 1 सितंबर को राष्ट्रपति के हाथों नई दिल्ली में यह पुरस्कार दिया जाएगा.
स्कूल के हेडमास्टर आर बालू ने कहा कि यह स्कूल टॉप 100 की सूचि में था,जिसे पुरस्कार के लिए लिए चुना गया है.
उन्होंने कहा कि इस स्कूल को इनाम के रूप में एक प्रशस्ति पत्र और 50,000 रुपए नकद पुरस्कार दिया जाएगा.
गौरतलब है कि स्कूलों में स्वच्छता का मूल्याकंन एक विशेष पैनल द्वारा किया जाता है. जिसमें सुरक्षित पेयजल,स्वच्छ पेयजल,स्वच्छ शौचालयों, हाथ धोने के तरीके जैसे कई विशेष साफ-सफाई से जुड़ी सुविधाओं पर गौर किया जाता है.
आपको बता दें कि 26 दिसंबर 2004 में आई सुनामी में यह स्कूल पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था. स्कूल की इमारत के नाम पर बस वहां कुछ मलबा शेष बच गया था.
इसके अलावा गांव के 570 लोगों के साथ स्कूल के 80 छात्र भी मारे गए थे.
इतनी बड़ी आपदा झेलने के बाद आज इस स्कूल को राष्ट्रीय पुरस्कार मिलना यहां के प्रबंधन की कोशिशों का ही नतीजा है, जो वाकई काबिले तारीफ है.