चीन में बना दुनिया का पहला अंडरग्राउंड होटल, जमीन के नीचे तैयार किए 16 फ्लोर

China World's First Underground Hotel

China World’s First Underground Hotel : इसका उद्घाटन 1 दिसंबर 2018 को आम लोगों के लिए किया जाना है.

China World’s First Underground Hotel : आज किसी को भी शक नहीं होना चाहिए की विज्ञान और तकनीक के मामले में चीन इस समय दूनिया का सबसे ताकतवर देश बन गया है.

हाल ही में समंदर पर दुनिया के सबसे लंबे पुल का शिलान्यास कर उसने सभी को ये दिखा दिया था कि तकनीकी प्रयोग में उसकी सोच कितनी ऊपर पहुंच चुकी है.
अभी लोग उसके पुल बनाने की कला को समझ ही पाते कि एक बार फिर उसने अपने बेजोड़ आर्किटेक्चर से दुनिया को असमंजस में डाल दिया है.
दरअसल चीन ने अपने यहां दुनिया का पहला अंडरग्राउड होटल तैयार किया है जिसका उद्घाटन 1 दिसंबर 2018 को आम लोगों के लिए किया जाना है.
पढ़ें – कैसा है समंदर पर चीन द्वारा बनाया गया दुनिया का सबसे लंबा पुल
होटल की सबसे खास बात यह है कि इसमें 16 प्लोर जमीन के नीचे बने हुए हैं यानि की वो पूरी तरह से अंडरग्राउंड हैं.जबकि केवल 2 फ्लोर को ही जमीन से ऊपर रखा गया है.
इस होटल का नाम Intercontinental Shanghai Wonderland रखा गया है जो सोंगजियांग शहर स्थित स्थानीय होंगकियाओ एयरपोर्ट से सिर्फ 30 किलोमीटर दूरी पर है.
China World's First Underground Hotel
google pic
इस तरह किया गया डिजाइन
बता दें कि होटल के दो फ्लोर 10 मीटर गहरे एक मछलीघर (एक्वैरियम) से घिरे हुए हैं. इसे इस तरह से डिजाइन किया गया है कि हर रूम से वहां ठहरने वाले लोगों को खिड़की से बाहर कृत्रिम तरीके से तैयार किया गया झरना बहता दिखेगा.
ये होटल एक चट्टान के ऊपर निर्मित किया गया है जहां आने वाले ग्राहक रॉक क्लाइंबिंग का भी मजा ले सकते हैं.
वहीं इस होटल में जलस्तर के नीचे सूट बना हुआ है, जो ठहरने आए कपल को काफी आकर्षित कर सकते हैं.
पढ़ें दिल्ली का सिग्नेचर ब्रिज आज से सबके लिए शुरू,आपने अब तक जानी इसकी खासियत
एक रात ठहरने के लिए इतना आएगा खर्च
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस होटल में एक रात ठहरने के लिए आपको 30 से 35 हजार रूपए के बीच चुकाने पड़ सकते हैं.
यहां जाने वालों के लिए इसकी बुकिंग अगले हफ्ते से शुरू होने की संभावना है.बताया जा रहा है इस होटेल में रुकने पर आपको धरती के गर्भ में रुकने जैसा एहसास होगा.
वहीं अगर इस होटल को बनाने में आई लागत की बात करें तो अंदाजन और कई मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक इसमे 288 मिलियन डॉलर की राशि लगी है.