कॉरपोरेट कंपनियों ने सामाजिक कार्यों पर पिछले 3 साल में खर्च किए 28,000 करोड़

  CSR Spent Money Report
demo pic

 CSR Spent Money Report : 1 अप्रैल 2014 से 30 नवंबर 2017 के बीच के हैं आकड़े

CSR Spent Money Report : कॉरपोरेट कंपनियों द्वारा समाजिक कार्यों में उनके दिए गए आर्थिक योगदान के आकड़े जारी किए गए है.

रिपोर्ट में कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व (सीएसआर) के नियमों के प्रभावि रूप में लागू होने के तीन साल बाद के आकड़ें पेश किए गए हैं, जिसमें यह सामने आया है कि इन कंपनियों ने सामाजिक कार्यों पर 28,000 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.
बता दें कि नियम के अनुसार सभी कंपनियों को अपने लाभ का एक प्रतिशत सीएसआर के तहत देश के अंदर चलाए जाने वाले विभिन्न सामाजिक कार्यों के लिए अनिवार्य रूप से देना पड़ता है.
कॉरपोरेट मामले के मंत्रालय द्वारा जुटाए गए आकड़ों के आधार पर पता चलता है कि 1 अप्रैल 2014 से 30 नवंबर 2017 के बीच सीएसआर गतिविधियों पर कंपनियों ने कुल 28,111.63 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.
इस राशि का प्रयोग समाज में फैली गरीबी और कुपोषण, सुरक्षित पीने के पानी, स्वच्छता स्वास्थ्य , शिक्षा,आजीविका, ग्रामीण विकास, स्वच्छ भारत कोष,स्वच्छ गंगा कोष, लैंगिक समानता , महिला सशक्तिकरण ,बुढ़ापे के घरों ,और समाज में अन्य तरह कि असमानताओं को कम करने के लिए किया गया है.
यह भी पढ़ें – Malala Fund : भारत में लड़कियों की शिक्षा के लिए एप्पल और मलाला यूसुफजई करेंगे साथ काम
हालांकि इस पूरी राशि का 70 प्रतिशत यानि की 19,948.86 करोड़ तो सिर्फ निजी कंपनियों के द्वारा खर्च की गई है.
गौरतलब है कि सामाजिक कार्यों के लिए सबसे ज्यादा खर्च वित्त वर्ष 2015-16 में खर्च की गई है जो 13,827.86 करोड़ रुपए थी.
वहीं इस नियम के प्रभावी होने से पहले वर्ष 2014-15 में कंपनियों द्वारा सामाजिक कार्यों पर कुल व्यय 9,564.77 करोड़ रुपये था.