राम मंदिर को लेकर एक बार फिर हलचल, जानिये इस बार किसने क्या कहा ?

Ayodhya Ram Mandir Latest Politician Statement

Ayodhya Ram Mandir Latest Politician Statement : सीएम योगी के मंदिर निमार्ण पर दिए बयान के बाद फिर उठा ये मुद्दा

Ayodhya Ram Mandir Latest Politician Statement :  हर बार की तरह ही चुनावों के नजदीक आते ही राम मंदिर का मुद्दा गरमा गया है.

बीजेपी ने मास्टर स्ट्रोक की तरह इस मुद्दे को लेकर अपना दाव खेलना शुरू कर दिया है तो वहीं विपक्ष भी इस मामले में फंकफूंक कर बयान दे रही है.
लेकिन इन सब के बीच यह साफ हो गया है कि इस बार जनता को बहकना नेताओं के लिए इतना आसान नहीं होगा.

Ayodhya Ram Mandir Latest Politician Statement

सीएम योगी ने मंदिर निमार्ण पर दिया बड़ा बयान
हाल ही में राजस्थान के बीकानेर में सीएम योगी ने राम मंदिर को लेकर कुछ ऐसा कह दिया है जिससे देशभर में राम मंदिर निर्माण को लेकर हलचल तेज हो गयी है.
बता दें, सीएम योगी ने संकेत दिया है कि दिवाली के बाद से राम मंदिर को लेकर काम शुरू हो जाएगा, उन्होंने यह भी कहा कि इस बार एक दिया भगवान राम के नाम का भी जलाएं.
पढ़ें – 13 मासूम लोगों की हत्या करने वाली आदमखोर बाघिन की मौत पर इतना बवाल क्यों ?
मिली जानकारी के अनुसार सीएम योगी इस साल दीवाली के बाद राम मंदिर के निर्माण कार्य को शुरू करेंगे और साथ इस बार की दीवाली और भी भव्य  तरीके से मनाने की बात कही जा रही है.
इस बात को बवा तब मिल गई जब उन्होंने कहा कि वो इस बार अयोध्या खाली हाथ नहीं जाएंग अपने साथ कुछ बड़ी खबर जरूर लाएंगे.
हालांकि इसके तुरंत बाद ही यूपी सरकार द्वारा अयोध्या के सरयू तट पर विशाल भगवान श्री राम की मूर्ति बनाने का फैसला लिया गया.
योग गुरु बाबा रामदेव ने भी राम मंदिर को लेकर दिया ये बयान 
बता दें कोर्ट ने 29 अक्टूबर को होने वाली सुनवाई को टाल दिया था जिसके बाद बाबा रामदेव ने कहा है कि यदि कोर्ट इस मामले में फैसला देने में देरी करता है तो संसद में कानून लाकर राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू किया जाना चाहिए.
 दिसंबर से शुरू होगा निर्माण !
राम जन्मभूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य डॉ. रामविलास दास वेदांती ने कहा कि “राम मंदिर का निर्माण कार्य दिसंबर से शुरू होगा.
बिना किसी अध्यादेश के अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होगा,  आपसी सहमति से राम मंदिर अयोध्या में और मस्जिद का निर्माण लखनऊ में कराया जाएगा.

 उमा भारती का क्या है कहना
इधर सीएम योगी ने राम मंदिर के कार्य के चालू होने के संकेत दिए ही थे कि केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा…
‘मैं राम जन्‍मभूमि आंदोलन में सक्रिय रूप से शामिल थी. उससे जुड़े एक मामले की सुनवाई अभी भी चल रही है. मुझे इस पर गर्व है. राम मंदिर का निर्माण मेरा सपना है, इसके लिए मेरी ओर से जिस पहल की आवश्‍यकता होगी, मैं करने को तैयार हूं.’
बता दें उमा भारती ने इसके बाद एक और बयान दिया है जिसमें उन्होंने राहुल गाँधी को राम मंदिर की नीव रखने के लिए आमंत्रित किया है, उन्होंने कहा वह ऐसा करके अपनी पार्टी (कांग्रेस) के पापों का प्रायश्चित कर लेंगे.’
उन्होंने यह भी कहा कि ‘हिंदू विश्व में सबसे सहिष्णु लोग हैं. मैं सभी राजनीतिज्ञों से अपील करती हूं, कृपया अयोध्या में भगवान राम के जन्मस्थान के बाहरी दायरे में एक मस्जिद निर्माण की बात करके उन्हें असहिष्णु न बनाएं.’
पढ़ें – RBI और सरकार आए आमने – सामने, इतिहास में पहली बार हुआ धारा 7 का इस्तेमाल

केंद्रीय मंत्री पीपी चौधरी ने भी राम मंदिर को लेकर कही बड़ी बात 
इस बीच राम मंदिर मुद्दे पर केंद्र मंदिर पीपी चौधरी ने कहा है कि  “राम मंदिर बनना चाहिए. मामला सुप्रीम कोर्ट में है और हम चाहते हैं कि जल्द से जल्द इस पर फैसला हो.
मैं सरकार के बारे में नहीं कह सकता. मगर मेरी व्यक्तिगत राय है कि अगर न्याय में देरी होती है तो कानून बनाया जा सकता है.”
बता दें कोर्ट ने जनवरी 2019 तक राम मंदिर मुद्दे की सुनवाई टाल दी है और ऐसे में बीजेपी एक बार फिर इस मुद्दे के सहारे जनता को लुभाने में लगी है.
देखना दिलचस्प रहेगा कि क्या वाकई दीवाली के बाद राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होगा ? और अगर ऐसा होता है तो देश के हिंदू जनभाव के लिए इससे खुशी की बात शायद कुछ और नहीं हो सकती.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here