कैसे इतना भयानक हो गई कैलिफोर्निया की आग, अब तक 48 लोगों की हो चुकी है मौत

California Fires Continue Damage
PC- BBC

California Fires Continue Damage : आग से कई सेलेब्रेटीस के घर जलकर हुए राख 

California Fires Continue Damage : कुदरत के कहर से चाहे कितना ही विकसित या बेहद गरीब देश हो कोई नहीं बच सकता, हाल ही में एक बार फिर प्रकृति ने ऐसा तांडव किया है कि खुद को भगवान के बराबर समझने वाला इंसान पूरी तरह से टूट गया.

दरअसल हम बात कर रहे हैं अमेरिका के कैलिफोर्निया के जंगलों में लगी उस भीषण आग की जिसकी गर्मी अभी थमने का नाम नहीं ले रही है.
8 नवंबर की सुबह  जंगलों में लगी आग से अभी तक करीब 48 लोगों के मरने की खबर है और अभी भी यह संख्या बढ़ रही है. ताजा रिपोर्ट्स के मुताबिक अब तक लगभग 1,17,000 एकड़ जमीन इस आग की चपेट में आ गई है.
वहीं इसकी वजह से 7200 इमारतें तबाह हो गई हैं और 15,500 इमारतों पर ख़तरा मंडरा रहा है.
पढ़ें – ईरान प्रतिबंधों पर अमेरिका ने भारत को दी कौन कौन सी छूट, जानें
 कई सेलेब्रेटीस के घर जलकर हुए राख 
इस भीषण आग में अभिनेता माईली सायरस और जेरार्ड बटलर का घर पूरी तरह से जलकर राख हो गए हैं जबकि फिल्मकार गुइलेरमो डेल टोरो के घर को थोड़ा नुकसान पहुंचा है. हालांकी माइली ने आग पीड़ितों के लिए ट्वविटर पर संवेदना व्यक्त है.
कैलिफोर्निया की पुलिस ने कहा… 
कैलिफोर्निया पुलिस के एक अधिकारी हॉनिया ने बताया कि “44 में से 42 की मौत उत्तरी कैलिफोर्निया के कैंप फायर में व दो की मौत मालिबू के वूल्सी फायर में हुई है. वहीं उत्तरी कैलिफोर्निया के पैराडाइज शहर में लगभग 200 से ज्यादा लोग लापता हैं.”
हालांकि अधिकारियों का कहना है कि अभी तक आग के 25 फ़ीसदी हिस्से पर ही काबू पाया जा सका है.
क्या कहा ट्रम्प ने ? 
बता दें यह आग इतनी भीषण है कि  राष्ट्रपति ट्रंप ने इसे गंभीर आपदा घोषित कर दिया है और लगातार इसको रोकने के उपाय किये जा रहे हैं.
और बिगड़ सकते हैं हालात 
मौसम विभाग के अनुसार यह आग अभी  और फ़ैल सकती है जिसकी वजह से सभी को सावधान रहने के लिए कहा गया है.  बता दें कैलिफ़ोर्निया में सबसे भीषण आग साल 1933 में ग्रीफ़िथ में लगी थी.
पढ़ें पाकिस्तान में 69 % लोगों को यह तक नहीं पता कि इंटरनेट भी कुछ होता है – सर्वे
क्या हो सकती है वजह
कैलिफोर्निया मे आग लगना कोई नया नहीं है पहले भी यहां के जंगलों में आग लगती आई है जो गर्मी से शुरू होकर बरसात तक चलता था. गर इस बार की आग ने सभी रिकार्ड तोड़ दिए और ये काफी उग्र हो गई है.
विशेषज्ञों का कहना है कि आग का ख़तरा साल भर है और ये कभी भी लग सकती हैं.कम नमी, संता एना की गर्म हवाएं, सूखी ज़मीन और महीनों तक बारिश न होने की वजह से आग तेजी से फैलती जा रही है.
इसका एक कारण जलवायु परिवर्तन को भी बताया गया है क्योंकी इसकी वजह से हाल के वर्षों में तापमान ने ऊंचाई के रिकार्ड छुए हैं, बसंत पहले आ रहा है और बारिश कब हो सकती है इसके बारे कुछ कहा नहीं जा सकता.
आग से बचकर निकली एक महिला ने दिया ये बयान 
इस भीषण आग में बचकर निकली एक महिला ने बताया कि…
“ये ऐसा था जैसे फ़िल्मों में दुनिया का अंत दिखाया जाता है, आसमान में काला धुआं उठ रहा था, लपटें धधक रही थीं और मुझे नहीं मालूम था कि वो मौत से बचकर भाग रही हैं या मौत के मुंह में जा रही हैं.
उन्होंने बताया, “मुझे आग के बीच से गाड़ी निकालनी पड़ी. ये डरावना था. ये मेरे जीवन का सबसे भयावह अनुभव था.”
फिलहाल, हम आशा करते हैं जल्द इस आग पर काबू पा लिया जायेगा जिसके बाद एक बार फिर लोगों का जीवन सामन्य रूप से चल सकेगा।