एम्स में मरीजों के लिए 500 रूपए से कम के सभी टेस्ट होंगे मुफ्त

AIIMS MBBS 2018 Result
demo pic

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में इलाज कराने वाले एम्स में मरीजों को बड़ी राहत दी गई है.

अब एम्स के सभी अस्पतालों में 500 रुपए से कम की कीमत वाले टेस्ट मुफ्त में किए जाएंगे.
इस योजना को बनाने में एम्स ने अपनी तरफ से पूरा काम कर लिया है. अब इसे मुख्य रूप से लागू कराने के लिए प्रस्ताव स्वास्थ्य मंत्रालय के पास भेजा गया है. जिसकी मंजूरी के बाद इसे एम्स के सभी अस्पतालों में पूर्ण रूप से लागू कर दिया जाएगा.
स्वास्थ्य मंत्रालय की मंजूरी के बाद सभी मरीजों को एम्स में ब्लड टेस्ट , एक्स-रे, अल्ट्रासाउंड जैसे कई टेस्टों के लिए अपनी जेब से पैसा नहीं देना पड़ेगा.
हिन्दुस्तान टाइम्स पर छपि खबर के मुताबित एम्स में हर रोज लगभग 10,000 से ज्यादा मरीज ऐसे आते हैं. जिन्हें डॉक्टरों द्वारा इन टेस्टों को करवाने के लिए कहा जाता है. वहीं लगभग 2000 मरीज इलाज के लिए रोजाना अस्पताल में भर्ती किए जाते हैं. एम्स हर साल लगभग 101 करोड़ रुपए की कमाई सिर्फ इन टेस्टों, एडमिशन फीस और रजिस्ट्रेशन फीस के जरिए कमाता है.
एम्स ने यह फैसला 15 डॉक्टरों की कमेटी बनाने के बाद किया है. यह कमेटी अस्पताल में आ रहे मरीजों को किस प्रकार की परेशानी झेलनी पड़ती है इस पर काम कर रही थी.
हालांकि एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि हम इस योजना के शुरू करने के एवज में प्राइवेट वार्ड की फीस बढ़ाने पर विचार कर रहे हैं.
उन्होंने कहा कि अगर हम प्राइवेट वार्ड का पैसा बढ़ाते भी हैं तो इससे लोगों को ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा. क्योंकि किसी भी प्राइवेट अस्पताल में एक रूम का चार्ज करीब 5000 या 10000 होता. बल्कि एम्स में यह सुविधा काफी सस्ती है.