72वें स्वतंत्रता दिवस पर भारत ने नेपाल को भेंट में दी एम्बुलेंस, दोस्ती को किया पक्का

India Gifts Nepal Ambulance

India Gifts Nepal Ambulance : अस्पताल,चैरिटेबल ट्रस्टों और शैक्षणिक संस्थानों को एंबुलेंस और बसें भेंट करी 

India Gifts Nepal Ambulance : सदीयों से भारत की छवि दुनिया भर में एक मित्रता प्रिय देश की रही है.

अपने पड़ोसी खासकर छोटे देशों के साथ हमने हमेशा ही एक सच्चे मददगार और दोस्त की भूमिका निभाई है.
इसी सिलसिले को जारी रखते हुए अपने 72वें स्वतंत्रता दिवस पर एक बार फिर भारत ने अपने सबसे अजीज और पूराने मित्र नेपाल को एक असीम भेंट दी है.
दरअसल भारत ने नेपाल के अस्पतालों,चैरिटेबल ट्रस्टों और शैक्षणिक संस्थानों को 30 एंबुलेंस और छह बसें भेंट करी है.
पढ़ें – परमाणु हथियारों के खत्म होने की उम्मीद में इस देश में जल रही 54 सालों से लौ
नेपाल में भारतीय राजदूत मंजीव सिंह पुरी ने 15 अगस्त के दिन काठमांडू स्थित अपने भारतीय दूतावास के परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम में संबंधित संगठनों के प्रतिनिधियों को इन वाहनों की चाबी सौंपी.
बता दें कि 1994 से अब तक भारत ने इसी तरह स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के अवसर पर नेपाल के अलग-अलग संस्थानों को 542 एम्बुलेंस और 106 बसें गिफ़्ट कर चुका है.
गौरतलब है कि ये वाहन नेपाल के 75 में से 73 ज़िलों में लोगों तक स्वास्थ्य सेवाओं को पहुंचाने में मदद करते हैं.
वहीं 25 ज़िलों में स्थित अलग-अलग शैक्षणिक संस्थानों को दी गई बसें वहां बच्चों को विद्यालय लाने ले जाने में मदद करती हैं.
इन मदद से भारत हमेशा ये ज़ाहिर करने की कोशिश करता है कि नेपाल के लिए उसके हाथ हमेशा मदद के लिए उठते रहेंगे
शहीद और बच्चों के लिए भी किया दान
स्वतंत्रता दिवस के पावन मौके पर पुरी ने भारतीय सशस्त्र बलों के शहीद सैनिकों की विधवाओं और बच्चों को भी सम्मानित किया और उन्हें 5.35 लाख नेपाली रुपए के चेक वितरित किए.
पढ़ें – 9 सालों से वेतन ना लेने वाले वरूण गांधी यूं बने गरीबों के ‘रॉबिनहुड पांडे’
भारतीय दूतावास ने एक बयान में कहा कि पूरे नेपाल में 68 स्कूलों और पुस्तकालयों को किताबें भी वितरित की गयी.
इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में राजनयिक समुदाय के सदस्य, नेपाल में भारतीय समुदाय, भारत के दोस्त, मीडियाकर्मी और छात्रों सहित सैकड़ों लोगों ने शिरकत करी.