Nasa Flood Detector : नासा की इस खोज से पहले ही पता चल जाएगा किस शहर में आने वाली है बाढ़

64 Years India's Flood Death Record
demo pic

Nasa Flood Detector : भारत का मंगलुरु अति संवेदनशील

Nasa Flood Detector : अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक ऐसा टूल विकसित किया है जिसके जरिए यह पता लगाया जा सकेगा कि दुनिया के किस शहर में बाढ़ आने वाली है.

यह टूल धरती के घूमने और गुरुत्वाकर्षण के प्रभाव को देखते हुए यह भविष्यवाणी करेगा कि ग्लेशियर के पिघलने के बाद दुनिया के किस तटीय शहर में समुद्र का कितना पानी जाएगा.
नासा के इस टूल की मदद से प्रभावित शहर की सरकारों को यह पता लगाने में मदद मिलेगी कि समुद्र में किन आइसशीट्स को लेकर उन्हें ज्यादा चिंता करनी है.
भारत का मंगलुरु अति संवेदनशील
नासा के मुताबिक, भारत के शहर भी इस मामले में काफी संवदेनशील स्थिति में है.
शोधकर्ताओं के अनुसार इस टूल का इस्तेमाल 293 प्रमुख शहरों पर किया गया है, जिनमें भारत के कर्नाटक का मंगलुरु शहर भी शामिल है. मंगलुरु को इस मामले में काफी संवेदनशील बताया गया है.
ग्रीनलैंड और अंटार्कटिक आइसशीट के लगभग सभी क्षेत्रों में बर्फ की मोटाई में आने वाले परिवर्तन से मंगलुरु प्रभावित होगा. परेशान करने वाली बात यह है कि खतरे के स्तर के मामले में मंगलुरु मुंबई और न्यू यॉर्क जैसे शहरों से कहीं आगे है.
शोधकर्ताओं के मुताबिक, ग्रेडिअंट फिंगरप्रिंट मैपिंग (GFM) नाम का यह टूल हर शहर के हिसाब से भविष्यवाणी करने में सक्षम होगा.
नासा के सीनियर वैज्ञानिक एरिक इविन्स ने कहा कि , ‘सभी देश और शहर बाढ़ से बचने की योजना बनाते हैं, वे भविष्य में 100 साल आगे की सोच रहे होंगे और उसी तरह चीजों का आकलन करना चाहेंगे जैसा बीमा कंपनियां करती हैं.’
उन्होंने दावा किया कि यह टूल किसी भी तटीय शहर के लिए बाढ़ के खतरे के स्तर का सटीक अनुमान लगा सकता है.
For More Hindi Positive News and Positive News India Follow Us On FacebookTwitter, Instagram, and Google Plus