जानिए क्या है यूपी में शुरू की गई “एक जिला एक उत्पाद” योजना, किसे होगा फायदा ?

One District One Product

One District One Product : यूपी  लखनऊ में बोले राष्ट्रपति, जानिये सभी ज़रूरी बातें

One District One Product : आज यानी 10 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने यूपी के लखनऊ में हुए  ‘एक जनपद-एक उत्पाद‘ के उद्घाटन समारोह में शिरकत करी.

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग द्वारा संपन्न हुए इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति के अलावा सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,राज्यपाल रामनाइक व लघु उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी भी शामिल हुए
बता दें कि इस समिट को प्रभावशाली बनाने के लिए सीएम योगी कई दिनों से पहले ही इसकी तैयारियों का खुद जाएजा ले रहे थे.
पढ़ें –  ड्राइविंग लाइसेंस और RC की हार्ड कॉपी साथ रखने की झंझट खत्म, अब मोबाइल से होगा काम
जानिए क्या है  ‘एक जनपद-एक उत्पाद’  ? 
दरअसल  एक जनपद एक उत्पाद (ODOP) यूपी ब्रांड की पहल है जिसके तहत सरकार हर साल प्रदेश के 5 लाख लोगों को रोजगार देगी.
इस योजना का उद्देश्य राज्य के हर जिले को एक वहां तैयार होने वाले प्रॉडक्ट के हब के रूप में तैयार करना और फिर उसे जिले की पहचान के रूप में विकसित करना हैं.
उदाहरण के तौर पर जैसे मुरादाबाद जिले में पीतल के अधिक बर्तन बनाए जाते हैं इसलिए सरकार अब वहां इस उत्पाद को बढ़ावा देने के लिए कई बेहतर काम करेगी.
ऐसे ही सरकार अन्य जिलों का चयन उनके यहां सबसे ज्यादा कारोबार होने वाले लघु उद्योग के आधार पर करेगी और फिर उस एक प्रोडक्ट का और अधिक विस्तार करने के लिए कई प्रयास करेगी.

One District One Product

राष्टपति ने लाभार्थियों को दिया लोन
शुक्रवार को एक जनपद एक उत्पाद में हिस्सा लेने के लिए लखनऊ पहुंचे प्रेसीडेंट रामनाथ कोविंद ने यहां 75 जिलों के पारंपरिक उद्योगों के उत्पादों की प्रदर्शनी देखी साथ ही इनसे जुड़े 4085 शिल्पकारों को 1006 करोड़ रुपए का लोन और टूल किट वितरित किया.
इस मौके पर राष्ट्रपति ने ओडीओपी की आधिकारिक वेबसाइट की शुरूआत की और साथ ही कानपुर, कन्नौज और लखनऊ के छोटे उद्यमियों को स्टार्टअप योजना के तहत ऋण के चेक भी वितरित किए.
इसके अलावा राष्ट्रपति ने इस योजना से जुड़ने वालों की आसानी के लिए एक हेल्पलाइन नंबर 18001800888 भी जारी किया जिसपर कॉल करके लोग अपना काम शुरू करने के लिए सरकारी मदद पा सकते हैं.
पढ़ें – यूपी की योगी सरकार करेगी लोक कल्याण मित्रों की नियुक्ति, मिलेगी 30 हजार सैलरी
यही नहीं राष्ट्रपति ने समिट में आए शिल्पकारों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें कुछ विकसित देशों से यह सीखना है कि कैसे हाथ से बनी चीजों को आधुनिक ब्रांडिंग और मार्केटिंग के जरिए विदेशी मुद्रा कमाने, रोजगार बढ़ाने और देश की छवि को निखारने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है.

One District One Product

अमेजॉन इंडिया भी बनी भागीदार
समिट में हिस्सा लेने पहुंची अमेजॉन इंडिया ने उत्तर प्रदेश के 9 जिलों में सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यमियों को वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रॉडक्ट के तहत सहायता करने के लिए शुक्रवार को प्रदेश सरकार के साथ एक एमओयू साइन किया है.
अमेजॉन इंडिया ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर बताया कि वो कला हाट प्रोग्राम के तहत प्रदेश के पारंपरिक उद्योगों  को बढ़ावा देने के लिए इन उत्पादों को भारत के बाजार में बेचने के लिए उद्यमियों की मदद करेगी.
पढ़ें – सुकन्या समृद्धि योजना में अब सिर्फ 250 रुपए में खुलेगा खाता,गरीब परिवारों को राहत
सिर्फ अमेजॉन ही नहीं विप्रो,जनरल इलेक्ट्रिक, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के साथ भी यूपी सरकार ने 4.68 लाख करोड़ की एमओयू साइन किया है.
ऐसा माना जा रहा है कि इन कंपनियों से सूक्षम, छोटे व मझोले उद्योगों समेत कुटीर उद्योगों को ट्रेनिंग, ब्रॉन्डिंग, मार्केटिंग और दूसरी संस्थागत सहायता में मदद मिलेगी.
खैर अब देखना ये होगा कि क्या वाकई यह योजना किसी तरह से यूपी के लोगों के लिए मददगार साबित होगी या अधिकांश योजनाओं की तरह ठंडे बस्ते में पड़ जायेगी.